पहली बार मीडिया के सामने आई ओसामा बिन लादेन की मां

रियाद। दुनिया का सबसे खूंखार आतंकी रहा ओसामा बिन लादेन कभी बहुत शर्मीला हुआ करता था। वह आम बच्चों की तरह ही अपनी मां से बहुत प्यार करता था और पढ़ाई में भी काफी तेज था। जी हां, ओसामा बिन लादेन के बचपन के बारे में यह बातें किसी और ने नहीं बल्कि उसकी मां ने बताई हैं, जो पहली बार मीडिया से मुखातिब हुई हैं।
‘द गार्जियन’ को दिए इंटरव्यू में आलिया घानेम ने बताया, ओसामा के जन्म के कुछ समय बाद ही उन्होंने उसके पिता से तलाक ले लिया था और दूसरी शादी कर ली थी। अब उनका एक परिवार है लेकिन ओसामा के बारे में वह कहती हैं कि उनकी पहली संतान लादेन काफी शर्मीला था और वह उनसे बहुत ज्यादा प्यार करता था।
उन्होंने बताया कि जब ओसामा 20 साल के आसपास था तो वह काफी मजबूत, प्रेरित और पवित्र था लेकिन बाद में वह बदल गया। जेद्दा की किंग अब्दुल्लाजीज यूनिवर्सिटी में पढ़ाई के दौरान ही ओसामा कट्टरपंथी बना। बेटे के बचपन को याद करते हुए घानेम ने बताया, ‘यूनिवर्सिटी के लोगों ने उसे बदल दिया। वह एक अलग आदमी बन गया। वहां वह अब्दुल्ला अजाम नाम के एक शख्स से मिला, जो मुस्लिम ब्रदरहुड का सदस्य था, जिसे सऊदी अरब से निर्वासित कर दिया गया था और बाद में वह ओसामा का धर्मगुरु बना।’
घानेम ने आगे बताया, ‘वह बहुत अच्छा बच्चा था जब तक वह कुछ ऐसे लोगों से नहीं मिला था जिन्होंने उसका ब्रेनवॉश किया। उन्हें ऐसा करने के लिए पैसे मिलते थे। मैंने हमेशा ओसामा को ऐसे लोगों से दूर रहने को कहा और उसने कभी भी स्वीकार नहीं किया कि वह क्या कर रहा था, क्योंकि वह मुझसे बहुत प्यार करता था।’
1980 के दशक के शुरुआती सालों में ओसामा रूस के कब्जे के खिलाफ लड़ने अफगानिस्तान पहुंचा। घानेम ने बताया, ‘शुरुआती दिनों में ओसामा से जो भी मिलता था वह उसका सम्मान करता था। शुरू में, हमें उसपर बहुत गर्व होता था। यहां तक कि सऊदी सरकार भी उसके संग बहुत अच्छे संबंध रखती थी और फिर सबके सामने आया ‘ओसामा द मुजाहिद’।’
घनेम से जब पूछा गया कि क्या उन्होंने कभी सोचा था कि उनका बेटा जिहादी बन जाएगा? तो उन्होंने कहा, ‘यह मेरे दिमाग में कभी नहीं आया।’ जब उनसे पूछा गया कि इसकी जानकारी मिलने पर उन्हें कैसा लगा? तो उन्होंने कहा, ‘हम बहुत दुखी थे। मैं नहीं चाहती कि यह किसी और के साथ हो। उसने सब-कुछ ऐसे क्यों बर्बाद कर दिया?’
घानेम ने बताया कि आखिरी बार उन्होंने ओसामा को 1999 में अफगानिस्तान में देखा था, उस साल वह दो बार ओसामा से मिलने गई थी। उस वक्त ओसामा कंधार के ठीक बाहर अपने ठिकाने में रह रहा था। ओसामा के सौतेले भाइयों ने बताया कि 9/11 को अब 17 साल बीत चुके हैं और घानेम अब तक इसके लिए अपने बेटे को नहीं बल्कि उसके साथ रहने वालों को दोषी मानती हैं। उन्होंने बताया, ‘हमले के 48 घंटों के अंदर हम जानते थे कि ओसामा ही इसके पीछए है। हम सबको उसपर शर्म आ रही थी। हमें पता था कि हम सबको इसके परिणाम भुगतने पड़ेंगे।’ अब लगभग दो दशक बाद लादेन का यह परिवार खुलेआम घूम सकता है।
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »