लोकसभा चुनाव का First phase: उप्र में 60% से ज्‍यादा मतदान

लखनऊ। लोकसभा चुनाव के First phase की वोटिंग में उत्‍तरप्रदेश में 60% से ज्‍यादा मतदान किया गया। लोकतंत्र के महापर्व लोकसभा चुनाव 2019 के First phase में आज जहां महाराष्ट्र के गढ़चिरौली जिले के एटापल्ली में एक पोलिंग बूथ के नजदीक नक्सलियों ने आइईडी ब्लास्ट किया है, वहीं देर रात तक चुनाव अधिकारी मतदान की तैयारी करते रहे और छिटपुट घटनाओं को छोड़कर मतदान शांतिपूर्ण रहा।

मुख्य चुनाव आयुक्त ने मतदाताओं से मतदान करने की अपील की थी। सात चरणों में हो रहे आम चुनावों के इस प्रथम चरण में 20 राज्यों की कुल 91 सीटों का फैसला मतदाता ने ईवीएम में बंद कर दिया।

इनमें आंध्र प्रदेश की सभी 25 लोकसभा सीटों, तेलंगाना की 17, असम की पांच, बिहार की चार, ओडिशा की चार, छत्तीसगढ़ की एक, जम्मू कश्मीर की दो, महाराष्ट्र की सात, अरुणाचल की दो, मणिपुर की दो, मेघालय की दो, नगालैंड-मिजोरम की एक-एक, सिक्किम-त्रिपुरा की एक-एक, उत्तर प्रदेश की आठ, उत्तराखंड की पांच, अंडमान-निकोबार और लक्षद्वीप की एक-एक और पश्चिम बंगाल की दो सीटों पर मतदान हुआ।

First phase में शाम 5 बजे तक वोटिंग प्रतिशत बिहार: 50.26%, तेलंगाना: 60.57%, मेघालय: 62%, उत्तर प्रदेश: 59.77%, मणिपुर: 78.20%, लक्षद्वीप: 65.9% और असम: 68 फीसद।

उत्‍तर प्रदेश में शाम 5 बजे तक लगभग 60 फीसद मतदान हुआ। मेरठ में 5 बजे तक 60.05 प्रतिशत, बिजनौर में 60.38 प्रतिशत, सहारनपुर में 62 प्रतिशत, मुज़फ्फरनगर में 62.27 प्रतिशत, बागपत में 60 प्रतिशत और कैराना में 60.34 प्रतिशत मतदान हुआ।

कूचबिहार जिले के उपमंडल दिनहाटा में लोगों ने पहली बार वोट डाला
प. बंगाल के कूचबिहार जिले के उपमंडल दिनहाटा में लोगों ने पहली बार वोट डाला। पहली बार है, जब दिनहाटा के लोगों ने भारतीय नागरिक के तौर पर अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया। गौरतलब है कि भारत और बांग्लादेश के बीच साल 2015 में एन्क्लेव सेटलमेंट के तहत 9,776 लोगों को मतदाता सूची में जोड़ा गया है।

भारत-बांग्लादेश सीमा समझौता
जुलाई 2014 में भारत और बांग्लादेश के बीच बहुप्रतीक्षित भूमि सीमा का समझौता हुआ था। इसके तहत कूचबिहार स्थित 51 बांग्लादेशी छिटमहल (इन्कलेव) का विलय भारत में हुआ। उसी प्रकार रंगपुर, कुडीग्राम व लालमुनीरहाट स्थित 111 भारतीय छिटमहल (इन्कलेव) बांग्लादेशी भू-भाग का हिस्सा बन गए। बांग्लादेश से आए लोगों का स्थिती अभी बहुत अच्छी नहीं है। सीमा पार से आए कुल 9,776 लोगों को मतदाता सूची में जोड़ा गया है, इन लोगों को पहली बार भारत में मतदान करने का मौका मिला है।

-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »