पहली इंसानी रोबोट सोफिया ने कहा, विविध और सुंदर देश है भारत

इंसान की शक्ल वाली पहली रोबोट ‘सोफिया’ ने जब भारत का दीदार किया तो उसमें जीवंत भावना का संचार हुआ. रोबोट सोफिया ने भारत को रंगीन, विविधताओं से पूर्ण और खूबसूरत बताया. हांगकांग की कंपनी हैनसन रोबोटिक्स ने इस मानव मशीन का विकास किया है. सोफिया अभिनेत्री आड्रे हेपबर्न की प्रतिकृति है.
इसकी मानवीय शक्ल-सूरत और व्यवहार अन्य रोबोट से जुदा है और इसी खासियत के लिए यह चर्चित भी है. मानव मशीन सोफिया में कृत्रिम बुद्धिमता (आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस), विजुअल डाटा प्रोसेसिंग और फेशियल रिकॉगनिशन का इस्तेमाल किया गया है. इसकी पहचानने की शक्ति अद्भुत है.
यहां सातवें फोरएवर र्माक फोरम में सोफिया को लाया गया है. कमाल की बात तो यह थी कि सोफिया फोरएवर र्माक और बीयर्स ग्रुप ऑफ कंपनीज के ईवीपी स्टीफन लुसियर के साथ दिलचस्प तरीके से बात कर रही थी. फोरम में ‘फ्यूचर इज नाउ’ की थीम पर फोकस किया.
जब लुसियर ने जब सोफिया से पूछा कि क्या वह पहली बार भारत आई है तो उसने कहा, ‘नहीं, मैं इससे पहले भी भारत आ चुकी हूं. यह एक रंग बिरंगा, विविध और सुंदर देश है.’ लुसियर ने उससे पूछा कि क्या आपको लगता है भविष्य को बेहतर बनाया जा सकता है? सोफिया ने कहा, ‘हां, अधिक से अधिक पेड़ लगाकर, पानी का सही उपयोग करके और पर्यावरण में योगदान देकर बनाया जा सकता है.’
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »