सपा नेता और पूर्व कैबिनेट मंत्री आजम खान के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज

लखनऊ। सपा नेता और अखिलेश सरकार में कैबिनेट मंत्री रहे आजम खां के खिलाफ हजरतगंज कोतवाली में रिपोर्ट दर्ज करवाई गई है। उन पर शिया धर्म गुरु मौलाना कल्बे जवाद के खिलाफ असामाजिक वक्तव्य देने और उनकी प्रतिष्ठा को ठेस पहुंचाने का आरोप है। इंस्पेक्टर हजरतगंज राधा रमण सिंह का कहना है कि तहरीर के आधार पर रिपोर्ट दर्ज कर मामले की जांच की जा रही है। अल्लामा जमीर नकवी की तहरीर पर आईपीसी की धारा 500 और 505 के तहत केस दर्ज किया गया है।
हुसैनाबाद बुरैरा निवासी अल्लामा जमीर की ओर से पुलिस को दी गई तहरीर में आजम खां पर वरिष्ठ शिया धर्मगुरु मौलाना कल्बे जवाद पर बेबुनियाद टिप्पणी करने का आरोप है।
अल्लामा जमीर का कहना है कि आजम खां ने सरकारी पैड पर चार अगस्त 2014 से 12 अगस्त 2014 तक मौलाना जवाद पर गलत आरोप लगाकर लेटर जारी किए। ये खबरें न्यूज चैनल्‍स और अखबारों में भी प्रकाशित हुईं। आज तक आजम खां अपने ऊपर लगे आरोपों का जवाब नहीं दे सके हैं। पुलिस को दी तहरीर में एसपी के एक वरिष्ठ नेता पर भी मिलीभगत का आरोप लगाया गया है, हालांकि पुलिस ने उनको नामजद नहीं किया है।
आजम ने लगाया था वक्फ की जमीन बेचने का आरोप
एसपी के पूर्व कैबिनेट मंत्री आजम खां ने अपने सरकारी लेटर पैड पर लिखकर आरोप लगाया था कि ठाकुरगंज स्थित वक्फ सज्जादिया की 22 बीघा जमीन को मौलाना जवाद ने प्लॉटिंग कर बेच डाला था। इसकी रजिस्ट्री किसके नाम हुई, यह आज तक साबित नहीं हो सका। आजम खां ने यह भी झूठा आरोप लगाया था कि मौलाना जवाद ने राम मंदिर निर्माण के लिए 15 लाख रुपये दिए हैं।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »