चीन में उइगर मुसलमानों को ठहराने पर होटल पर जुर्माना

पेइचिंग। चीन ने शिनजियांग प्रांत के उइगर मुसलमानों के खिलाफ कुछ कड़े सुरक्षा नियम बनाए हैं। इसके तहत 18 अक्टूबर से शुरू हो रही कम्युनिस्ट पार्टी कांग्रेस से पहले देशभर के किसी भी होटल में यहां के मुसलमानों को ठहरने की अनुमति नहीं होगी। इस नियम को तोड़ने पर दक्षिण चीन प्रशासन ने एक होटल पर जुर्माना भी लगाया है।
शिनजियांग प्रांत में मुस्लिम बहुसंख्यक हैं और चीन सरकार आतंकवाद और कट्टरपंथ को बढ़ावा देने के लिए उइगर मुसलमानों को ही जिम्मेदार मानती है। इसी के मद्देनजर यह कार्यवाही की गई। रेडियो फ्री एशिया के अनुसार शेनजेन होटल ने इस बात की पुष्टि की है कि 7Days को शिनजियांग के आगंतुकों को अपने यहां ठहराने के लिए जुर्माना देना होगा। कानून को तोड़ने के लिए होटल पर 15,000 युआन का जुर्माना लगा है। होटल के एक कर्मचारी ने कहा, ‘डेटाबेस शेयर करके पुलिस को पूरी जानकारी दी जाएगी। पुलिस किसी भी गेस्ट को वीटो कर सकती है, जिससे उसे खतरा महसूस होगा।’
फिलहाल इस बात की जानकारी नहीं है कि यह बैन डमेस्टिक या इंटरनेशनल होटल की चेन पर है या केवल स्थानीय होटलों पर। गौरतलब है कि अक्सर उइगर मुस्लिम समुदाय के लोग चीन सरकार द्वारा अपने खिलाफ भेदभाव का आरोप लगाकर प्रदर्शन करते रहते हैं।
शिनजियांग प्रांत की आबादी में बड़ा हिस्सा स्थानीय उइगर मुसलमानों का है। हाल के कुछ सालों में हुए हमलों में यहां सैकड़ों लोग मारे जा चुके हैं। इस्लामिक स्टेट (IS) ने इन्हीं उइगर मुस्लिमों का दमन किए जाने के आरोपों के मद्देनजर चीन को चेतावनी दी है। पिछले मार्च में चीन ने इसी क्षेत्र में अपनी सैन्य क्षमता का नजारा पेश किया था। पश्चिमी शिनजियांग में हुए इस सैन्य अभ्यास में दस हजार से ज्यादा हथियारबंद सुरक्षाकर्मी, बख्तरबंद गाड़ियों की लंबी कतारें और हेलिकॉप्टर्स नजर आए थे।
-एजेंसी