देव पटेल को फ़िल्म ‘लायन’ के लिए बाफ़्टा में सर्वश्रेष्ठ सहअभिनेता का पुरस्कार मिला

film 'Lion' Dev Patel at Bafta award for Best supporting actor
देव पटेल को फ़िल्म ‘लायन’ के लिए बाफ़्टा में सर्वश्रेष्ठ सहअभिनेता का पुरस्कार मिला

भारतीय मूल के ब्रितानी अभिनेता देव पटेल को फ़िल्म ‘लायन’ के लिए ब्रिटिश एकेडमी ऑफ फ़िल्म एंड टेलीविज़न अवार्ड्स यानी बाफ़्टा में सर्वश्रेष्ठ सहअभिनेता का पुरस्कार मिला है.
इस साल के बाफ़्टा पुरस्कारों में म्यूजिकल रोमांटिक फ़िल्म ‘ला ला लैंड’ की धूम रही. इसे बेस्ट फ़िल्म समेत कुल पांच पुरस्कार मिले. इसी फ़िल्म के लिए एमा स्टोन को बेस्ट एक्ट्रेस का पुरस्कार मिला.
फ़िल्म ‘मैनचेस्टर बाई दी सी’ में अभिनय के लिए कैसी एफ़लक को बेस्ट एक्टर का पुरस्कार मिला. फ़िल्म फ़ेंसेज में अभिनय के लिए अभिनेत्री वियोला डेविस को सर्वश्रेष्ठ सहअभिनेत्री का पुरस्कार मिला.
असल ज़िंदगी पर आधारित निर्देशक गार्थ डेविस की फ़िल्म ‘लायन’ में देव पटेल ने अपने परिवार से बिछड़े एक युवक की भूमिका निभाई है, जो गूगल अर्थ के सहारे भारत में स्थित अपना घर खोजने और वापस लौटने की कोशिश करता है.
बाफ़्टा में ‘लायन’ को आउटस्टैंडिंग ब्रिटिश फ़िल्म का पुरस्कार मिला.
फ़िल्म लायन के लिए देव पटेल को ऑस्कर पुरस्कारों के लिए सर्वश्रेष्ठ सहअभिनेता का नामांकन मिला है. लायन को ऑस्कर में छह नामांकन मिले हैं.
तालियों की गड़गड़ाहट के बीच सर्वश्रेष्ठ सहअभिनेता का पुरस्कार लेने के बाद 26 साल के देव पटेल ने इसे जबर्दस्त बताया.
पटेल ब्रितानी फ़िल्मकार डैनी बॉयल की 2009 में आई ऑस्कर विजेता फ़िल्म ‘स्लमडॉग मिलियनेअर’ से चर्चा में आए थे.
इस फ़िल्म में उनके साथ फ्रीडा पिंटो और इरफ़ान ख़ान ने भी काम किया था. ऑस्कर मिलने के बाद पिंटों और इरफ़ान ख़ान तो कई अंग्रेजी फ़िल्मों में नज़र आए लेकिन देव पटेल को छोटी-मोटी भूमिकाओं से ही संतोष करना पड़ा.
उनकी एक बड़ी फ़िल्म एम नाइट श्यामलन की ‘द लास्ट एअरबेंडर’ दर्शकों को बहुत पसंद नहीं आई. वहीं एक छोटी फ़िल्म ‘अबाउट चेरी एंड द रोड विद इन’ में उनकी तरफ किसी का ध्यान नहीं गया.
देव पटेल का संघर्ष फ़िल्म ‘सूनी कूपर’ के बाद जाकर ख़त्म हुआ. उन्होंने एचबीओ पर प्रसारित होने वाले नील संपत की ‘न्यूज़ नाइट शो’ सीरियल में भी काम किया.
भारतीय मूल के ब्रितानी अभिनेता देव पटेल भारतीय लहजे में बोलते हैं. वो अपने किरदार में जान डालने के लिए काफ़ी कड़ी मेहनत करते हैं.
लायन में काम करने को लेकर उनका कहना है, ”मैंने अब तक जितनी स्क्रिप्ट पढ़ी, उनमें इसकी स्क्रिप्ट सबसे अच्छी थी इसलिए इसका हिस्सा बनना बड़ी बात थी.”
-BBC

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *