FIFA वर्ल्ड कप: भारत के 11 शीर्ष फुटबॉलरों को चुनना कोई आसान काम नहीं

नई दिल्‍ली। FIFA वर्ल्ड कप के लिए भारत के 11 शीर्ष फुटबॉलरों को चुनना कोई आसान काम नहीं है। भारतीय फुटबॉल में बहुत से दिग्गज खिलाड़ी रहे हैं। ऐसे में किसे टीम में रखें और किस खिलाड़ी को छोड़ें, यह आसान काम नहीं हैं।
गोलकीपर के तौर पर सनत शेट, एसएस नारायणन, भास्कर गांगुली, तरुण बोस आदि बहुत से खिलाड़ी हैं। पीटर थंगराज को भी नजरंदाज नहीं किया जा सकता। यह लिस्ट लंबी है लेकिन जब बात भारतीय गोल का बचाव करने की है तो आप थंगराज से बेहतर गोलकीपर नहीं सोच सकते। जब वह अपने हाथ गेंद को थामने के लिए फैलाते थे तो बिलकुल आसमान में उड़ती चील की तरह नजर आते थे।
राइटबैक सुधीर कर्मकार भारत के दिग्गज हैं और 1970 एशियन गेम्स में FIFA अधिकारियों को अपनी आंखों पर यकीन नहीं हुआ था कि कैसे सुधीर जैसा शानदार और काबिल फुटबॉलर भारत में खेल रहा है। अरुण घोष और जरनैल सिंह तो जैसे भारत के सेंट्रल डिफेंसिव जोड़ी के रूप में ही बने हैं। अरुण तकनीकी तौर पर बेहतर हैं तो जरनैल क्लियर और कवरिंग। लेफ्ट-बैक पर एसके अजीजुद्दीन से बेहतर कोई नजर नहीं आता।
सेंट्रल मिडफील्ड के लिए यूसुफ खान और तुलसीदास बलराम हर किसी की पसंद होंगे। सुदीप चटर्जी के बजाय यूसुफ को चुनना किसी के लिए एक बड़ा मुश्किल फैसला होगा लेकिन यूसुफ कंप्लीट फुटबॉलर हैं। कई लोग कहते हैं कि बलराम अटैकिंग खेलते हैं लेकिन वह भी एक कंप्लीट फुटबॉलर हैं। वह डिफेंड और अटैक, दोनों कर सकते हैं। राइट विंग पर पीके बनर्जी और चुनी गोस्वामी को चुनाव उचित होगा जिसके लिए किसी तरह के स्पष्टीकरण की जरूरत महसूस नहीं होती।
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »