बार-बार बीमार नहीं पड़ने देता फाइबर युक्त भोजन

बात जब सेहत की होती है तो हम अक्सर पढ़ते और सुनते हैं कि फाइबर्स युक्त भोजन करना चाहिए क्योंकि ये एनर्जी से भरपूर होने के साथ ही पाचन में आसान होते हैं।
फाइबर्स के सेवन से हमारे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता में वृद्धि होती है यानी हम बार-बार बीमार नहीं पड़ते हैं।
इसके अलावा फाइबर युक्त भोजन के और क्या फायदे हैं, यहां जानें…
फाइबर युक्त भोजन करने से ब्लड शुगर कंट्रोल रहता है। अगर आप अपने बढ़ते वजन से परेशान हैं, तब भी आपके लिए फाइबर युक्त भोजन करना ही उपयुक्त है क्योंकि फाइबर्स बॉडी वेट को कंट्रोल करने में मददगार होते हैं। खास बात यह है कि फाइबर्स हमें नेचुरल फ्रूट्स और नट्स से ही प्राप्त होते हैं इसलिए हमें प्लांट बेस्ड डायट को अपने खाने में प्राथमिकता देनी चाहिए।
फाइबर का डायजेशन आसान होता है, इस बात को हम सामान्य भाषा में समझते हैं लेकिन हकीकत यह है कि डायजेशन फाइबर्स का नहीं बल्कि उनके अंदर मौजूद पोषक तत्वों का होता है। फाइबर्स मल को साथ बाहर निकल जाते हैं और इनके द्वारा दिए गए पोषक तत्व शरीर द्वारा अवशोषित कर लिए जाते हैं।
फाइबर्स मुख्य रूप से दो प्रकार के होते हैं। पहले घुलनशील फाइबर्स यानी Soluble Fibers और दूसरे अघुलनशील फाइबर्स यानी Insoluble Fibers, घुलनशील फाइबर्स कोलेस्ट्रॉल और ग्लूकोज को शरीर में नियंत्रित रखने का काम करते हैं जबकि आंतों की सफाई करते हैं और ठीक प्रकार से पेट साफ करके कब्ज से राहत दिलाते हैं।
घुलनशील फाइबर्स रसीले फलों, बीन्स, जौ, गाजर, मटर, जई और नींबू जैसे खाद्य पदार्थों में पाए जाते हैं। वहीं, अघुलनशील फाइबर्स हरी बीन्स, फूल गोभी, गेहूं और आलू जैसे खाद्य पदार्थों में पाए जाते हैं।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *