श्रीमद्भागवत कथा के नन्दोत्सव में जमकर झूमे श्रद्धालु

आगरा। विजय नगर कॉलोनी में चल रही श्रीमद्भागवत कथा में शुक्रवार को नन्दोत्सव मनाया गया। भगवाताचार्य ने गजेंद्रमोक्ष्य, रामजन्म, रामचरित्र और कृष्ण जन्म का वर्णन किया| श्रद्धालु बधाई गीतों पर घंटो झूमते रहे। यशोदा ने जायो ललना, मैं जमुना पे सुन आई… व नन्द घर आनन्द भयो, जय कन्हैया लाल की… श्री कृष्ण के प्राकट्य की कथा के बीच कथा स्थल भगवान कृष्ण के जय जयकारों से गूंज उठा। कथा व्यास आचार्य गोपाल भईया जी के मुख से एक के बाद एक बधाई गीतों की धुनें प्रस्फुटित होती गयीं| जिन पर भक्ति की मस्ती में डूबे भक्तजन दीवाने हो उठे। सभी ने जमकर नृत्य किया। पुष्पवर्षा के साथ ही टॉफ़ी और चॉकलेट भी उछाले गये। रंगबिरंगे गुब्बारों को फोड़ने के लिये बच्चों में होड़ मच गयी। कथा के मुख्य यजमान रमा देवी शर्मा, सुनील शर्मा, रानी शर्मा रहे|
व्यास आचार्य गोपाल भईया ने बताया कि परमात्मा की भक्ति जीवन को श्रेष्ठ बनाने का सबसे बड़ा माध्यम होती है। निष्काम भाव से की गई ईश्वर की आराधना से मनुष्य का जीवन सार्थक होता है। भगवान की भक्ति से परम की प्राप्ति संभव है। परमात्मा की निस्वार्थ भाव से की गई भक्ति सभी दुखों को हरने वाली होती है। आचार्य गोपाल ने आगे कहा कि भक्तों को चाहिए कि वे अपना कष्ट लोगों के सामने नहीं बल्कि प्रभु से कहें। वह सर्वज्ञ हैं। आचार्य ने कहा कि व्यक्ति को किसी की निन्दा करने की जगह भगवान की चर्चा करनी चाहिए। इससे प्रभु कृपा हासिल होती है। इस अवसर पर भरत शर्मा, धर्मेंद्र शर्मा, मोहिनी शर्मा, वर्षा शर्मा, अशोक गोयल, संदीप अग्रवाल, मनोज गोयल, वीरेन मित्तल, राहुल बंसल, विकास बंसल उर्फ लड्डू, अखिल मोहन मित्तल, मधु गोयल, सीमा सिंघल, उमा अग्रवाल, हर्ष, आर्यन, गौरी, नंदनी, नेहा, अंकिता आदि मौजूद रहे|
भागवत कथा मे आज 
मीडिया प्रभारी विमल कुमार ने बताया कि पांचवे दिन शनिवार को बाल लीलायेँ, गोवर्धन पूजन के साथ छप्पन भोग सजाया जाएगा| श्रीमद्भागवत कथा निरंतर 15 मई तक दोपहर 2 से शाम 6 बजे तक चलेगी। कथा के समापन पर भक्तों को भोजन प्रसादी वितरित की जाएगी|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »