सबसे तेज ट्रायल: Rape के मामले में 24 घंटे के अंदर सजा का ऐलान

उज्जैन। मध्य प्रदेश में Rape के मामले में अदालत ने चार्जशीट दाखिल होने के 24 घंटे के अंदर सजा का ऐलान कर मिसाल कायम की है। एक बच्ची के साथ Rape के दोषी नाबालिग को एक जूवेनाइल कोर्ट ने दो साल की सजा सुनाई है। खास बात यह है कि रेप के इस मामले में सोमवार को ही चार्जशीट पेश की गई थी और अदालत ने उसी दिन दोषी को सजा सुना दी। इसे बलात्कार के किसी मामले में संभवतः सबसे तेजी से ट्रायल और सजा के तौर पर देखा जा रहा है।
घाटिया पुलिस थाने के प्रभारी एन एस कनेश ने बताया, ‘पीड़ित बच्ची के परिजन स्वतंत्रता दिवस के दिन उसे अपने एक पड़ोसी 14 साल के लड़के के साथ खेलने के लिए छोड़कर काम पर चले गए थे। लेकिन उसने इसी दौरान रेप की वारदात को अंजाम दे दिया।’
उज्जैन के पुलिस अधीक्षक (एसपी) सचिन अतुलकर का कहना है कि रेप के बाद नाबालिग गांव से फरार हो गया था। 16 अगस्त की रात को उसे चौमहला इलाके में एक रिश्तेदार के घर से गिरफ्तार किया गया।
इस मामले में पुलिस ने काफी तेजी से जांच को आगे बढ़ाया। चार दिन के अंदर ही उज्जैन पुलिस ने तफ्तीश पूरी करते हुए सोमवार को जज तृप्ति पांडे की अदालत में चार्जशीट दाखिल की। जज ने आरोप पत्र पेश होने के चंद घंटों के अंदर ही अपना फैसला सुना दिया। दोषी नाबालिग को सिवनी जूवेनाइल होम में सजा के तौर पर दो साल गुजारने होंगे।
रेप के इन मामलों में भी तेजी से सजा
8 अगस्त को मध्य प्रदेश के ही दतिया की एक अदालत ने बच्ची के साथ रेप के दोषी को महज 3 दिन की सुनवाई के बाद मौत होने तक कैद की सजा का ऐलान किया था।
छतरपुर जिले की स्थानीय अदालत ने इसी महीने एक दो साल की मासूम बच्ची के साथ रेप करने वाले एक शख्स को फांसी की सजा सुनाई है। इस मामले में कोर्ट में चली 27 दिनों की सुनवाई के बाद कोर्ट ने इसे ‘रेयरेस्ट ऑफ रेयर’ केस मानते हुए आरोपी तौहीद खान को फांसी की सजा सुनाई। 24 अप्रैल 2018 को दो साल की मासूम को उसने अपनी हवस का शिकार बनाया था।
8 जुलाई को मध्य प्रदेश के सागर जिले में रेप के मामले का ट्रायल महज 46 दिनों में पूरा करके आरोपी को सजा दी गई। 21 मई को एक नाबालिग लड़की के साथ बलात्कार के मामले में खमरिया निवासी आरोपी भग्गी उर्फ भगीरथ को मौत की सजा सुनाई गई।
इसी वर्ष राजस्थान के अलवर जिले में भी एससी-एसटी कोर्ट ने 7 महीने की एक मासूम बच्ची के साथ अपहरण और रेप किए जाने के मामले में दोषी को फांसी की सजा दी थी।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »