यमुना एक्सप्रेसवे पर भी 15 जून से फास्टैग अनिवार्य

नई दिल्‍ली। काफी इंतजार के बाद अब आखिरकार 15 जून से आगरा और नोएडा के बीच यमुना एक्सप्रेसवे पर वाहनों में फास्टैग लगाना अनिवार्य कर दिया जाएगा। आप भी अगर आगामी 15 जून या इसके बाद भी यमुना एक्सप्रेसवे से होकर गुजरने का मन बना रहे हैं तो अपने वाहन में फास्टैग जरूर लगवा लें।
यह 165-किलोमीटर लंबा एक्सप्रेसवे Jaypee Infratech Limited द्वारा संचालित किया जाता है।
Yamuna Expressway पर मौजूदा समय में 3 टोल प्लाजा हैं जो जेवर, मथुरा और आगरा में मौजूद हैं। FASTag प्रणाली के लागू होने का मतलब यह होगा कि नोएडा और लखनऊ के बीच ड्राइविंग करने वाले यात्रियों को एक दो सप्ताह के समय में टोल प्लाजा पर कतार में खड़े हुए बिना एक नॉन स्टॉप ड्राइव मिलेगी। आपको बता दें कि यमुना एक्सप्रेसवे पर 15 जून से पहले 1 अप्रैल की डेडलाइन रखी गयी थी।
रिपोर्ट्स के मुताबिक यमुना डेवलपमेंट अथॉरिटी, आईडीबीआई और जेपी इंफ्राटेक के प्रतिनिधियों के बीच इसी हफ्ते एक समझौता हुआ है, जिससे फास्टैग की सुविधा शुरू हो सकेगी। इनीशियल स्टेज में यमुना एक्सप्रेसवे पर प्रत्येक टोल प्लाजा पर टोल गेट के प्रत्येक तरफ दो लेन में FASTag सुविधा उपलब्ध होगी। आने वाले दिनों में FASTag इलेक्ट्रॉनिक टोल संग्रह प्रणाली को पूरा करने वाली लेन की संख्या धीरे-धीरे बढ़ेगी।
भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (NHAI) ने इस साल 15 फरवरी से हर राष्ट्रीय राजमार्ग पर FASTag प्रणाली लागू की थी। यमुना एक्सप्रेसवे औद्योगिक विकास प्राधिकरण ने पहली बार घोषणा की थी कि फास्टैग प्रणाली 1 फरवरी से शुरू होगी। हालांकि, कई कारणों से फास्टैग को लागू करने की प्रक्रिया में देर होती रही लेकिन आखिरकार अब 15 जून से फास्टैग को अनिवार्य कर दिया गया है।
हाल ही में NHAI ने देश भर में FASTag सुविधा वाले टोल प्लाजा के लिए नए दिशा-निर्देश जारी किए हैं जिसके अनुसार पीक आवर्स में अब प्रति वाहन के हिसाब से मैक्सिमम 10 सेकेंड का सर्विस टाइम सेट कर दिया गया है। इतना ही नहीं, बल्कि अब टोल प्लाजा पर 100 मीटर से ज्यादा लंबी वाहनों की लाइन लगाने की अनुमति नहीं होगी। ख़ास बात ये है कि अगर वाहनों की लाइन 100 मीटर से ज्यादा हो जाएगी तो वाहनों को बिना टोल चुकाए ही जाने की अनुमति दे दी जाएगी। यह कदम उठाने का मकसद यातायात को बिना बाधित किए हुए सुचारु रूप से चलाए रखना है।
किसी वजह से अगर टोल प्लाजा पर वाहनों की लाइन 100 मीटर से ज्यादा हो जाती है तो इससे टोल बूथ से 100 मीटर की रेंज में आने वाले वाहनों को बिना टोल चुकाए ही वहां से जाने दिया जाएगा। नए दिशानिर्देश जारी होने के बाद से अब टोल प्लाजा से गुजरने वाले वाहनों को ज्यादा देर रुकने की जरूरत नहीं पड़ेगी साथ ही देर होने पर टोल भी नहीं चुकाना पड़ेगा।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *