सबसे महंगी सब्ज़ी की फार्म‍िंग भी फेक, हो सकती है कानूनी कार्यवाही

औरंगाबाद। बिहार में सबसे महंगी सब्जी की खेती की खबर झूठी न‍िकली, इसे लेकर अब कृष‍ि व‍िभाग कार्यवाही की तैयारी कर रहा है।

गौरतलब है क‍ि औरंगाबाद जिले में नवीनगर प्रखंड के करमडीह गांव न‍िवासी युवक अमरेश सिंह द्वारा विश्‍व की सबसे महंगी सब्‍जी हॉप शूट्स (Hop Shoots) की कथित खेती की और दावा किया कि उसने ट्रायल के तौर पर खेती शुरू की, पर बीमार पड़ जाने के कारण उनके पार्टनर देखरेख नहीं कर सके। इस वजह से फसल सूख गई। अब फिर से खेती करेंगे। इस खबर में दावा किया जा रहा था कि खेती 60% तक सफल रही थी।

इस खबर से चौंके कृषि विभाग के अधिकारी जब जायजा लेने गांव पहुंचे तो वहां कोई खेती नहीं थी। स्थानीय लोगों ने भी इस संबंध में अनभिज्ञता जाहिर की। सहायक उद्यान निदेशक जितेंद्र कुमार के अनुसार ऐसी कोई खेती औरंगाबाद में नहीं की गई। इस बावत अमरेश से जब मोबाइल पर पूछताछ की गई तो उसने नालंदा जिले में खेती की बात बताई परंतु नालंदा में भी ऐसी कोई खेती नहीं म‍िली। उद्यान निदेशक जितेंद्र कुमार ने बताया कि अमरेश के दावे की उच्चस्तरीय जांच की जा रही है। अगर फेक फॉर्मिंग का मामला सही पाया गया तो कार्यवाही की जाएगी। जिला कृषि कार्यालय के अधिकारी इस पर रिपोर्ट तैयार कर रहे हैं।

अमरेश का दावा भी फेक न‍िकला कि वह उत्‍तर प्रदेश के गोंडा में 20 एकड़ जमीन लीज पर लेकर पांच कट्ठे में हॉप शूट्स उगा रहा है और इस खेती के लिए वाराणसी में डॉ. लाल से प्रशिक्षण लिया है लेकिन इस संबंध में जब भारतीय सब्जी अनुसंधान केंद्र, वाराणसी के निदेशक डॉ. जगदीश सिंह बात की गई, तो उन्‍होंने पूरी खबर को फर्जी बताते हुए कहा कि उनके यहां न कोई डॉ. लाल हैं और न ही हॉप शूट्स नाम की दुनिया की सबसे महंगी सब्जी का बीज तैयार किया गया है।

उधर कृषि विभाग के अधिकारियों ने बताया कि जो तस्वीर इंटरनेट मीडिया पर दिख रही है वह हॉप शूट्स नहीं है।

– एजेंसी

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *