हरियाणा के करनाल में किसानों का धरना जारी, इंटरनेट पर लगी रोक भी बढ़ी

हरियाणा के करनाल ज़िले में लघु सचिवालय के बाहर किसानों का धरना गुरुवार को भी जारी है. ज़िला प्रशासन ने करनाल ज़िले में इंटरनेट और एसएमएस सेवाओं पर लगी रोक को आज भी बढ़ा दिया है.
हरियाणा सरकार की ओर से जारी एक विज्ञप्ति में कहा गया है कि करनाल में किसानों के आंदोलन को देखते हुए, ग़लत सूचना के प्रसार को रोकने के लिए ये क़दम उठाया गया है.
ये रोक नौ सितंबर रात 11:59 बजे तक जारी रहेगी. बैंकिंग और मोबाइल रीचार्ज के लिए एसएमएस को पाबंदी से बाहर रखा गया है.
किसानों की ओर से 11 सदस्यीय एक समिति ने इस मुद्दे पर मंगलवार को प्रशासन के साथ दो बार और बुधवार को भी चर्चा की लेकिन वो नाक़ाम रही.
इसके बाद से किसान करनाल में मिनी सेक्रेटेरिएट के बाहर धरने पर बैठ गए हैं.
किसानों की माँग
किसान 28 अगस्त को करनाल में एक प्रदर्शन के दौरान लाठीचार्ज के सिलसिले में कार्रवाई और मुआवज़े की माँग कर रहे हैं.
संगठनों ने प्रशासन से मांग की है कि किसानों के खिलाफ लाठीचार्ज का आदेश देने वाले अधिकारी के खिलाफ़ मामला दर्ज किया जाए.
प्रदर्शनकारी किसान करनाल के एसडीएम रहे आईएएस अधिकारी आयुष सिंह के खिलाफ कार्रवाई की मांग कर रहे हैं.
आयुष सिंह का एक वीडियो वायरल हुआ जिसमें वह पुलिस कर्मियों से प्रदर्शन कर रहे किसानों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने को कह रहे थे.
किसानों ने यह भी कहा कि अगर मामला दर्ज नहीं है तो कम से कम निलंबित तो किया जाना चाहिए.
प्रसाशन ने किसानों को जाँच का भरोसा दिया है और उसका कहना है कि बिना जाँच के किसी भी अधिकारी के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की जा सकती है.
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *