आगरा के Chhalesar में किसानों का धरना जारी

छलेसर/आगरा। Chhalesar में जेपी ग्रुप के खिलाफ भूूमि अधिग्रहण को लेकर चल रहा किसानों का धरना आज धरनास्थल पर आज 23वें दिन भी जारी रहा।
भूतपूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय श्री अटल बिहारी वाजपेयी की कविता ”हार नहीं मानूँगा , रार नहीं ठानूँगा” पर मनन करते हुये किसान धरनास्थल पर डटे हुये हैं। इस कविता को किसानों ने अब लड़ने का हथियार भी बना लिया है।

किसानों ने एक स्वर में धरनास्थल पर डटे रहने का निश्चय किया है। आज थीम पार्क अधिग्रहण के लिए गाँवों में लगभग आज 20 नुक्कड़ सभायें कर उनके साथ हुये सरकारी भेदभाव को सामने रखा, जिससे पीड़ित किसानों के घाव ताजा हो गये। 24 लाख 44 का विषय किसानों के मुँह पर आ गया। तमाम किसानों ने वार्षिक न मिलने की बात रखी, साथ ही भूमिहीनों के लिए अभी तक थीम पार्क में शुरुआत भी नहीं हुई है।

थीम पार्क के पीडितों ने अपनी बात रख धरने में शामिल होने का वायदा भूमि बचाओ किसान संघर्ष समिति के नेताओं से किया। धरनास्थल पर भी किसानों का जमावड़ा डटा रहा, त्यौहार सिर पर होने के बाबजूद महिलाओं के कदम घर पर न रूक कर धरनास्थल पर ही आकर रुक रहे हैं।

धरना चलाने में किसानों का आर्थिक तंगी होने के बावजूद भी हौसला बडा हुआ है।
धरनास्थल पर बडे बाबू श्री रविन्द्र सिंह जी ने पेठा और केला का वितरण कर किसानों को हर तरह से मदद का आश्वासन देकर हौसलाअफजाई की।
धरनास्थल पर आज पुनः अखिल भारतीय सवर्ण संगठन भारत के अंशुमन ठाकुर और आनंद पाल सिंह तोमर ने अपनी जोशीली भाषा में सीधे सीधे बात रख,किसानों के दर्द को कुरेदते हुये चुनाव के समय किये वादों को क्रमवार गिनायें। उन्‍होंने कहा कि आप अब होश में आ जाओ और अपने बच्चों के भविष्य को देखो और सम्हालो, नहीं तो यह बच्चे आप को कभी माफ नहीं करेंगे।

उत्तर-प्रदेश सरकार जे.पी.ग्रुप पर गैंगस्टर की कार्यवाही कर भू माफिया में निरूद्ध कर कार्यवाही कर गिरफ्तारी सुनिश्चित करे।

23वें दिन धरने की अध्यक्षता फौरन सिंह ने की और संचालन हरवीर सिंह सिकरवार ने किया। धरने पर अपनी बात डा.एच.एल , जय सिंह ,इन्द्रपाल , सौदान ,प्रताप ,दलवीर सिंह , भगवान ,उदयवीर ,बच्चु ,रघुवीर ,भूपेन्द्र ,दिवान ,राजपाल , धर्मेंद्र ,मिश्रा लाल एडवोकेट आदि किसानों ने बात रखी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *