बासु चटर्जी का निधन, म्यूजिक डायरेक्टर धनंजय मिश्रा भी नहीं रहे

मुंबई। बॉलीवुड के फेमस डायरेक्टर बासु चटर्जी ने भी इस दुनिया को अलविदा कह दिया है। वह 93 वर्ष के थे। बताया जा रहा है कि बासु ने सांताक्रूज स्थित अपने घर पर नींद में ही अंतिम सांस ली।
बासु चटर्जी ने भी अब इस जिंदगी को हमेशा के लिए अलविदा कह दिया। फिल्म जगत से मौक की खबरों का सिलसिला खत्म होने का नाम नहीं ले रहा। फिल्मी दुनिया के जानेमाने अनुभवी नेता बासु चटर्जी का निधन हो गया। हालांकि, उनके निधन की कोई खास वजह नहीं बताई गई है और कहा जा रहा है कि उम्र संबंधी बीमारियों के कारण गुरुवार को उनका निधन हो गया।
म्यूजिक डायरेक्टर धनंजय मिश्रा का निधन
दूसरी ओर भोजपुरी सिनेमा के जानेमाने म्यूजिक डायरेक्टर धनंजय मिश्रा का निधन हो गया।
एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री के लिए साल 2020 काफी बुरा साबित हो रहा है। बॉलीवुड म्यूजिक डायरेक्टर वाजिद खान के बाद भोजपुरी सिनेमा के बड़े म्यूजिक डायरेक्टर धनंजय मिश्रा के निधन की खबर आई है। रिपोर्ट्स की मानें तो सुबह 7 बजे घर पर उनका निधन हो गया था। मुंबई के मीरा रोड पर उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा। वह गाजीपुर (उत्तर प्रदेश) के रहने वाले थे।
मुंह से खून आने की खबर
धनंजय मिश्रा भोजपुरी सिनेमा के बड़े म्यूजिक डायरेक्टर थे। उन्होंने बॉलीवुड और टॉलिवुड फिल्मों के लिए भी काम किया था। मनोज तिवारी को बनाने में धनंजय की बड़ी भूमिका मानी जाती है। ‘रिंकिया के पापा’ गाना धनंजय ने ही कम्पोज किया था। भोजपुरी स्टार पवन सिंह के ज्यादातर गाने धनंजय ने ही कम्पोज किए थे। उनके निधन की खबर से फैंस को बड़ा झटका लगा है। रिपोर्ट्स के मुताबिक उनके मुंह से अचानक खून आने लगा था जिसके बाद उनकी मौत हो गई। सोशल मीडिया पर उन्हें श्रद्धांजलि दी जा रही है। उनके निधन की खबर पर खेसारी लाल यादव पहुंचे वहीं काजल राघवानी, रवि किशन और धनंजय के करीबी संजय भूषण पटियाला ने भी उनको श्रद्धांजलि।
वाजिद की मौत का झटका
यह साल एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री के लिए बेहद दुखभरा साबित हो रहा है। बीते दिनों म्यूजिक डायरेक्टर वाजिद खान के इंतकाल की खबर ने सबको बड़ा झटका दिया था। वाजिद खान को किडनी की समस्या था, गले में इनफेक्शन था और उनकी कोरोना रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई थी।
बासु चटर्जी फिल्म ‘छोटी सी बात’ और ‘रजनीगंधा’ जैसी अपनी बेहतरीन फिल्मों के लिए जाने जाते हैं। वह 93 वर्ष के थे। बताया जा रहा है कि बासु ने सांताक्रूज स्थित अपने घर पर नींद में ही अंतिम सांस ली। इंडियन फिल्म एंड टेलिविजन डायरेक्टर्स असोसिएशन (आईएफडीटीए) के अध्यक्ष अशोक पंडित ने कहा, ‘उन्होंने सुबह के समय नींद में ही शांति से अंतिम सांस ली। वह उम्र संबंधी दिक्कतों के कारण पिछले कुछ समय से ठीक नहीं चल रहे थे और उनके आवास पर ही उनका निधन हुआ। यह फिल्म उद्योग के लिए भारी क्षति है।’
लोग ट्विटर पर पोस्ट कर उन्हें याद कर रहे हैं और श्रद्धांजलि दे रहे हैं।
पंडित ने बताया कि फिल्म निर्माता का अंतिम संस्कार सांता क्रूज श्मशान घाट पर आज दोपहर 2 बजे किया जाएगा। बासु ने ‘छोटी सी बात’, ‘रजनीगंधा’ के अलावा ‘उस पार’, ‘चितचोर’, ‘पिया का घर’, ‘खट्टा मीठा’ और बातों बातों में’ जैसी फिल्मों के लिए पहचाने जाते हैं।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *