दिल्ली के Signature Bridge से गिरकर तेज रफ्तार दो बाइकर्स की मौत

नई दिल्‍ली। दिल्ली में सेल्फीबाजों के लिए हॉटस्पॉट बने Signature Bridge पर शुक्रवार को दो बाइकर्स की नीचे गिरने से मौत हो गई। दिल्ली पुलिस के मुताबिक बाइक बेहद तेज रफ्तार में डिवाइडर से टकराई, जिससे दोनों बाइकर्स नीचे जा गिरे। पुलिस के मुताबिक पहली नजर में यह एक हादसा लग रहा है। बता दें कि पहले ऐसी खबर आई थी कि युवक बाइक पर स्टंट कर रहे थे।
जानकारी के मुताबिक दोनों युवक केटीएम ड्यूक बाइक पर सवार थे। दिल्ली पुलिस ने बताया कि तीमारपुर पुलिस स्टेशन की पीसीआर वैन को सुबह करीब साढ़े आठ बजे इस हादसे की सूचना मिली। यह हादसा Signature Bridge के लेफ्ट टर्न लूप पर हुआ। बाइकसावर काफी तेज रफ्तार में थे, जिसका कारण बाइक डिवाइडर से टकरा गई और दोनों बाइकर्स ब्रिज से नीचे गिर गए। दोनों को तुरंत अस्पताल ले जाया गया, जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया गया। पुलिस ने बताया कि मृतकों में से एक की पहचान नहीं हो पाई है।
मृतकों में से एक की पहचान 23 साल के डॉ. सत्य विजय के रूप में हुई है, जो रांची के रहने वाले थे। वह हिंदू राव अस्पताल में इंटर्नशिप कर रहे थे। दूसरे मृतक की अभी पहचान नहीं हो पाई है। दोनों उस्मानपुर से नॉर्थ दिल्ली की साइड जा रहे थे। पुलिस को बाइक पुल के ऊपर मिली। इसका कुछ हिस्सा डैमेज था। आशंका हुई कि बाइक डिवाइडर से टकराई होगी, जिससे दोनों उछलकर पुल के नीचे यमुना खादर में जा गिरे।
पुलिस ने कहा कि हादसा Signature Bridge के लेफ्ट टर्न पर हुआ इसलिए यह स्टंट का मामला नहीं लग रहा है। पुलिस ने कहा कि यह हादसा सेल्फी लेने के दौरान हुआ भी नहीं लग रहा है क्योंकि हादसे में बाइक भी क्षतिग्रस्त हुई है। दोनों काफी ऊंचाई से नीचे गिरे।
पुलिस के आधिकारिक सूत्रों से सुबह तक यह पता चला था है कि जिस बाइक से हादसा हुआ है, वह किसी सत्या विजय शंकरण के नाम पर रजिस्टर्ड है, जो किसी अस्पताल में काम करता है। बाइक पर सत्या ही सवार था या कोई और, इस बारे में फिलहाल जानकारी नहीं मिली है।
हादसे को लेकर संशय बाकी!
घटना स्थल पर भीड़ के बीच अलग-अलग तरह की चर्चाएं थीं। कहा जा रहा था कि दोनों डिवाइडर के पास बाइक लगाकर ऊपर खड़े होकर सेल्फी ले रहे थे। उसी दौरान संतुलन बिगड़ने से नीचे गिर गए। हालांकि पुलिस ने इस चर्चा को अफवाह बताया। पुलिस का कहना है कि बाइक का कुछ हिस्सा क्षतिग्रस्त मिला है। आसपास के लोगों से शुरुआती पूछताछ में भी यही पता लगा है कि दोनों तेज रफ्तार में थे। बाइक डिवाइडर से टकरा गई, जिससे पुल के नीचे गिर गए। एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि आशंका यह है कि बाइक ड्राइव करते समय दोनों सेल्फी ले रहे हों, इसलिए पहिया डिवाइडर पर जा चढ़ा।
वही हुआ, जिसका डर था
उद्घाटन के बाद से जिस तरह से सिग्नेचर ब्रिज पर स्टंट और खतरनाक ढंग से सेल्फी का क्रेज बढ़ रहा है, उसमें ऐसा हादसा होने का डर था। लोगों का कहना है कि ट्रेफिक पुलिस यदि वहां यातायात नियमों को लेकर सख्ती बरते तो स्टंट और रोड किनारे रुककर सेल्फी लेने पर रोक लग सकती है, लेकिन पुलिस ने एहतियात नहीं बरती।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »