अपने यूजर्स को ब्राउसिंग हिस्ट्री डिलीट करने की सुविधा देने जा रहा है फ़ेसबुक

आने वाले समय में फ़ेसबुक अपने यूजर्स को ब्राउसिंग हिस्ट्री डिलीट करने की सुविधा देने जा रहा है. फ़ेसबुक संस्थापक मार्क ज़करबर्ग ने मंगलवार देर रात इसकी घोषणा की. कैलिफॉर्निया में आयोजित कंपनी की सालाना एफ़8 कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए ज़करबर्ग ने कहा कि फ़ेसबुक पर पुरानी हिस्ट्री को डिलीट करने वाले टूल का नाम 'क्लियर हिस्ट्री' होगा. ज़करबर्ग ने कहा, "यह बहुत ही आसान सा कदम होगा जिसके ज़रिए आप अपनी ब्राउसिंग हिस्ट्री को डिलीट कर सकेंगे. आपने किन लिंक्स को क्लिक किया, कौन सी वेबसाइट को विज़िट किया आदि जानकारियां आप क्लियर हिस्ट्री के ज़रिए हटा सकेंगे." ज़करबर्ग ने कहा कि बहुत से लोगों ने इस बारे में बात की थी. उनका कहना था, "फ़ेसबुक पर विज्ञापन और अन्य टूल्स के ज़रिए जिन वेबसाइट और एप्स को आप देखते हैं, उन्हें अपनी मर्जी के अनुसार डिलीट कर सकेगें, और अगर आप उन्हें सुरक्षित रखना चाहते हैं तो क्लियर हिस्ट्री को टर्न ऑफ करके सुरक्षित भी रख सकते हैं." हाल के दिनों में फ़ेसबुक पर अपने यूजर्स का डेटा किसी अन्य कंपनी को बेचने का मामला सामने आया था. फ़ेसबुक पर उसके करोड़ों यूज़र्स की निजी जानकारियां राजनीतिक लाभ के मद्देनज़र कैंब्रिज एनालिटिका नामक कंपनी को बेचने के आरोप लगे थे. ज़करबर्ग ने मंगलवार को कहा कि आने वाले वक्त में इस तरह की गड़बड़ियां दोबारा ना हों, इसके लिए फ़ेसबुक बहुत से एहतियाती कदम उठाने जा रहा है. ज़करबर्ग ने कैंब्रिज एनालिटिका के साथ हुई घटना को विश्वास तोड़ने जैसा बताया. उन्होंने कहा "एक ऐप डेवेलपर लोगों के उस डेटा को बेच देता है जो लोगों ने उसके साथ साझा किया. हम इस बात को सुनिश्ति करना चाहते हैं कि भविष्य में दोबारा ऐसा कभी ना हो इसलिए हम बहुत से कदम उठाने जा रहे हैं." "सबसे पहले जैसा कि आप जानते हैं हम डेवेलपर्स को लोगों से उनका डेटा मांगने पर रोक लगा रहे हैं, दूसरा, हम उन कमियों को तलाश रहे हैं जो डेटा सुरक्षा के लिए खतरा बनी हुई हैं." उन्होंने कहा कि इसके लिए वो अपने हर उस ऐप की जांच कर रहे हैं जिसके पास साल 2014 के दौरान लोगों की बहुत सी जानकारियां थीं. और अगर इनमें से किसी पर ज़रा सा भी शक़ हुआ तो इसकी स्वतंत्र जांच करवाई जाएगी. उनका कहना था कि अगर पाया गया कि किसी के डेटा का गलत इस्तेमाल हुआ तो उस ऐप डेवेलपर को बैन कर दिया जाएगा. ज़करबर्ग ने इसके साथ ही फ़ेसबुक के कई नए उत्पादों के बारे में भी जानकारियां दी. उन्होंने बताया कि फेसबुक जल्दी ही डेटिंग सर्विस शुरू करने जा रहा है इस सेवा के ज़रिए के फ़ेसबुक यूज़र्स अपने लिए बेहतर साथी का चुनाव कर सकेंगे. ज़करबर्ग ने बताया कि "फ़ेसबुक पर लगभग 2 करोड़ लोगों ने अपना स्टेटस सिंगल लिखा हुआ है, अब मौका है कि वे अपने लिए बेहतर साथी का चुनाव कर सकेंगे." साथ ही ज़करबर्ग ने कहा कि इंस्टाग्राम पर अब वीडियो चैट और कुछ नए फिल्टर्स भी शामिल किए जाएंगे और वो उम्मीद करते हैं कि लोगों को ये पसंद आएंगे. -एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »