इंग्लैड के कप्तान ने कहा, भारत के खिलाफ सीरीज बताती है कि टेस्ट क्रिकेट अभी जिंदा है

साउथम्पटन। इंग्लैड के कप्तान जो रूट ने कहा है कि भारत के खिलाफ जारी 5 मैचों की सीरीज से यह नजर आता है कि टेस्ट क्रिकेट अभी जिंदा है और काफी बेहतर है। इंग्लैंड ने अपनी मेजबानी में भारत को चौथे टेस्ट में 60 रन से हराकर सीरीज में 3-1 की अजेय बढ़त बना ली है। रूट ने कहा, ‘मुझे लगता है कि यह टेस्ट क्रिकेट के लिए अच्छे संकेत हैं। इससे मुझे भी पता चला कि टेस्ट क्रिकेट अभी जिंदा है और काफी बेहतर है।’
इंग्लिश कप्तान ने कहा, ‘इसका पूरा श्रेय भारतीय टीम को जाता है। टीम इंडिया ने अब तक शानदार क्रिकेट खेला है, सिर्फ इसी मैच में नहीं बल्कि पूरी सीरीज में। यहां के लोगों को भी पहला मैच और चौथा टेस्ट देखकर काफी अच्छा लगा कि कितने करीबी मुकाबले हो सकते हैं। इन मैचों में हार-जीत काफी करीबी रही और अंत तक यह जानना मुश्किल रहा कि कौन सी टीम जीतेगी।’ रूट ने कहा कि उन्हें जीत का भरोसा था क्योंकि नंबर-1 टीम को उनकी टीम के गेंदबाजी आक्रमण ने पहली पारी में 273 और दूसरी पारी में 184 रन पर ढेर कर दिया था।
आसान नहीं था लक्ष्य
रूट ने कहा, ‘जब मैं बल्लेबाजी कर रहा था, तो मुझे लगा कि 190 एक अच्छा स्कोर रहेगा लेकिन हमारी टीम ने इसे 230-240 तक खींचा जो काफी सही रहा। इसके बाद टीम इंडिया के लिए लक्ष्य का पीछा करना मुश्किल हो गया।’ उन्होंने साथ ही कहा कि ऐसी परिस्थितियों में किसी बल्लेबाज का संयम और धैर्य के साथ खेलना काफी चुनौतीपूर्ण था। कैप्टन ने साथ ही कहा कि मेजबान टीम के सभी खिलाड़ियों ने योगदान दिया जिसकी बदौलत जीत मिल सकी।
मोईन को बताया ‘बिग स्टार’
मोईन अली ने कमाल का प्रदर्शन करते हुए मैच में कुल 9 विकेट झटके और टीम की जीत में अहम योगदान दिया। 27 वर्षीय कैप्टन रूट ने कहा, ‘वह कमाल हैं। उन्होंने काउंटी क्रिकेट में भी शानदार प्रदर्शन किया। वह न सिर्फ गेंद से बल्कि बल्ले से भी योगदान दे रहे हैं। वह हमारी टीम के बड़े स्टार हैं।’
‘दवाब में भी बेहतर खेले’
मेजबान टीम के कप्तान ने कहा, ‘यह काफी अच्छा है कि दबाव में भी हमारी टीम बेहतर प्रदर्शन कर जीतने में कामयाब रही।’ इंग्लैंड टीम की पहली पारी में उसके 6 विकेट केवल 86 रन तक गिर गए थे। रूट ने कहा, ‘यह दोनों टीमों के लिए मुश्किल था। जिस तरह की विकेट थी, वहां हर बल्लेबाज के लिए टिककर खेलना आसान नहीं था। हालांकि दोनों टीमों के गेंदबाजी आक्रमण में धार है, साथ ही कमजोर क्षेत्रों में सुधार करने की जरूरत हैं।’
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »