AC को आदर्श तापमान पर सेट करके की जा सकती है बिजली की बचत

ऊर्जा मंत्री आरके सिंह ने हाल ही में कहा है कि सरकार आने वाले दिनों में एयर कंडीशनर के लिए 24 डिग्री सेल्सियस को एक आदर्श तापमान सेट करने पर विचार कर सकती है। इससे बिजली की काफी बचत होगी क्योंकि हर एक डिग्री में बढ़त से करीब 6 पर्सेंट बिजली की बचत होती है। इसलिए सरकार के इस कदम से अब AC के ज़रिए काफी बचत की जा सकेगी। वैसे AC चलाते वक्त कुछ और टिप्स का ध्यान रख आप काफी बिजली बचा सकते हैं। आइए जानते हैं:
तापमान 24 डिग्री सेल्सियस पर सेट रखें
कई ऐसे देश हैं जहां बिजली की बचत के लिए AC का तापमान 24 से 28 डिग्री सेल्सियस के बीच रखने का नियम है। आप खुद भी AC को 24 डिग्री सेल्सियस पर सेट करके रखें, ताकि बिजली की बचत हो। दरअसल एसी में जो थर्मोस्टेट लगा होता है, वह पहले कमरे के तापमान को चेक करता है और जब तापमान एक सही लेवल पर पहुंच जाता है तो वह कंप्रेसर को बंद कर देता है। थर्मोस्टेट तभी काम करता है जब तापमान कम होता है। ऐसे में बिजली की खपत भी ज़्यादा होगी। इसीलिए एसी का तापमान 24 डिग्री सेंटिग्रेट पर रखें।
एसी की साफ-सफाई
इसके अलावा इस बात का ध्यान रखें कि आपके एसी के फिल्टर एकदम साफ हों और उनमें कोई गंदगी न हो क्योंकि ऐसी स्थिति में हवा को फिल्टर होकर अंदर आने और बाहर निकलने के लिए काफी ज़ोर लगाना पड़ता है, जिसमें बिजली की खपत ज़्यादा होती है।
एनर्जी सेवर बटन
आजकल एयर कंडीशनर्स में एनर्जी सेवर बटन भी आता है। जब कमरा ठंडा हो जाए तब आप उस बटन को दबा दें। इससे एसी बिजली खपत नहीं लेगा और काफी सेविंग होगी।
बाहरी तापमान के हिसाब से रखें एसी का तापमान
ध्यान रखें कि अगर बाहर का तापमान ज़्यादा है तो एसी का तापमान कम न रखें, उसे 24 डिग्री पर ही सेट रखें। इससे बिजली कम खर्च होगी। एसी के लिए 24 से 25 डिग्री सेल्सियस को एक आदर्श तापमान माना गया है, इससे कई फीसदी बिजली बचाई जा सकती है।
एसी के साथ पंखा
एसी के ज़रिए बिजली बचाने का एक और बेहतर उपाय यह है कि जब भी आफ एसी चलाएं तो उसके साथ पंखा ज़रूर चलाएं क्योंकि पंखा पूरे कमरे में ठंडी हवा को रेग्युलेट करेगा और एसी पर कम बोझ पड़ेगा, लेकिन अगर आप किसी बिल्डिंग में टॉप फ्लोर पर रहते हैं, जहां सूरज की सीधी धूप आती है, तो एसी के साथ पंखा बिल्कुल न चलाएं।
एसी की आउटडोर यूनिट की फिटिंग
एसी की आउटडोर यूनिट को को ऐसी जगह फिट करें जहां उस पर सूरज की सीधी किरणें न पड़ती हों। इससे आप काफी बिजली बचा पाएंगे। इसके अलावा अगर आपके पास बहुत पुराना एयर कंडीशनर (AC) और उसमें बिजली की काफी खपत होती है, तो उसे बदलना ही बेहतर है। ज़्यादा पुराना एसी बिजली की ज़्यादा खपत करता है और उसे काफी मेनटेन करने की भी ज़रूरत होती है।
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »