ED की रिपोर्ट: UP में CAA पर हिंसा के लिए बांटे गए 120 करोड़ रुपए

CAA की आड़ लेकर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में फैलाई गई हिंसा के दृश्‍य
CAA की आड़ लेकर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में फैलाई गई हिंसा के दृश्‍य

नई दिल्‍ली। उत्तर प्रदेश में नागरिकता संशोधन एक्ट CAA विरोध का पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया PFI के साथ सीधा संपर्क था।
दरअसल, प्रवर्तन निदेशालय ED की रिपोर्ट में पता चला है कि जिन इलाकों में CAA के खिलाफ हिंसा हुई थी वहां PFI के हाथ होने के तार जुड़े हैं।
रिपोर्ट में दावा किया गया है कि 73 बैंक खातों में 120 करोड़ रुपये से ज्यादा की रकम जमा की गई थी। इन पैसों का इस्तेमाल प्रदर्शन के लिए हुआ।
पश्चिमी यूपी के कई बैंकों में जमा किए गए पैसे
ED की रिपोर्ट में पता चला है कि दिसंबर में संसद से CAA के पास होने के बाद पश्चिम यूपी के हिंसाग्रस्त इलाकों, बिजनौर, हापुड़, बहराइच, शामली और डासना के कई बैंक एकाउंट्स में पैसे भेजे गए थे।
रिपोर्ट बताती है कि 73 बैंक एकाउंट्स में करीब 120 करोड़ रुपये भेजे गए थे। इन पैसों का इस्तेमाल विरोध-प्रदर्शन के लिए किया गया।
PFI की कश्मीर यूनिट को भी मिले पैसे
रिपोर्ट में यह भी पता चला है कि PFI की कश्मीर यूनिट को भी 1.65 करोड़ रुपये मिले थे। ईडी ने गृह मंत्रालय को इस पैसों के लेन-देन के बारे में आगाह किया था।
बता दें कि यह रिपोर्ट यूपी हिंसा के लिए अरेस्ट किए गए PFI अध्यक्ष वसीम अहमद को पिछले सप्ताह जमानत मिलने के कुछ दिन बाद आई है।
यूपी पुलिस वसीम के खिलाफ मजबूत सबूत जुटाने में असफल रही थी। यूपी पुलिस ने वसीम को इस हिंसा का मास्टरमाइंड बताया था।
बीजेपी ने कहा, मामले की हो जांच
इस रिपोर्ट के खुलासे के बाद बीजेपी ने कहा है कि इस मामले की जांच होनी चाहिए। बीजेपी नेता और केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि अगर कोई खास दिन इस तरह का वित्तीय लेन-देन हुआ है तो इसकी जांच होनी चाहिए।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *