सप्ताह में 5 दिन मूंगफली खाएं और दिल की बीमारियों को दूर भगाएं

मूंगफली को सस्ता बादाम कहा जाता है। इसमें भी लगभग वही सारे पोषक तत्व होते हैं, जो बादाम में पाए जाते हैं। बादाम महंगा होता है, जबकि मूंगफली सस्ती और लाभदायक। मूंगफली प्रोटीन का बेहतरीन स्रोत है। 100 ग्राम कच्ची मूंगफली में 1 लीटर दूध के बराबर प्रोटीन पाया जाता है। मूंगफली को भूनकर खाने पर जितनी मात्रा में मिनरल्स मिलता है, उतना 250 ग्राम मीट में भी नहीं मिलता।
मूंगफली का तेल
सिर्फ फल ही नहीं, मूंगफली का तेल भी कई तरह से फायदेमंद है। शरीर की त्वचा पर मौजूद कीटाणुओं को खत्म करने में इसका तेल हमारी मदद करता है। आयुर्वेदाचार्य डॉ जी सी भट्ट की मानें तो आयुर्वेद में मूंगफली के तेल का इस्तेमाल कई दवाओं को बनाने में किया जाता है।
हड्डियां मजबूत
मूंगफली के सेवन से हड्डियों को मजबूती मिलती है। इसका कारण है, इसमें मौजूद कैल्शियम और विटमिन डी की मात्रा। यह हड्डियों के लिए एक बेहतरीन और सस्ता इलाज है।
प्रेग्नेंसी में लाभदायक
मूंगफली में फोलिक ऐसिड होता है। यह गर्भावस्था के दौरान भ्रूण में न्यूरल ट्यूब के दोष को कम करता है। साथ ही साथ यह महिलाओं में प्रजनन शक्ति को भी बेहतर बनाने में मदद करता है।
हॉर्मोनल संतुलन
शरीर की विभिन्न प्रक्रियाओं को सुचारू रूप से चलाने के लिए हॉर्मोन्स का संतुलन बेहद जरूरी है। रोजाना मूंगफली का सेवन पुरुषों और महिलाओं दोनों में हॉर्मोन्स का संतुलन बनाए रखता है।
पेट को रखे सही
मूंगफली में पॉलीफिनॉलिक नाम का ऐंटिऑक्सिडेंट पाया जाता है। यह पेट के कैंसर को कम करने की क्षमता रखता है। 2 चम्मच मूंगफली के मक्खन का सप्ताह में 1 बार सेवन करने से महिला और पुरुष दोनों में पेट के कैंसर का खतरा कम होता है।
कलेस्ट्रॉल पर नियंत्रण
सप्ताह में 5 दिन मूंगफली का सेवन किया जाए, तो इससे दिल की बीमारियों की आशंका कम हो जाती है। इसके अलावा, यह कलेस्ट्रॉल को भी नियंत्रित करने का काम करता है।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »