हर दिन चीज खाने से कम हो सकता है दिल के दौरे का खतरा

एक अध्ययन में दावा किया गया है कि हर दिन करीब 40 ग्राम चीज खाने से स्ट्रोक और दिल का दौरा पड़ने का खतरा कम हो सकता है। चीन के सोचाऊ यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं के मुताबिक चीज विटमिन, मिनरल्स और प्रोटीन से भरपूर होता है और इनके सेवन से हृदय रोग से बचने में मदद मिलती है। ‘यूरोपीय जर्नल ऑफ न्यूट्रिशन’ में प्रकाशित अध्ययन में शोधकर्ताओं ने पाया कि चीज हमारे शरीर में ‘गुड’ कलेस्ट्रॉल के स्तर को बढ़ाता है जबकि ‘बैड’ कलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करता है।
रिपोर्ट के मुताबिक चीज में एक ऐसिड भी होता है जो धमनियों में आने वाली किसी भी तरह की रुकावट को दूर करता है। ब्रिटेन की यूनिवर्सिटी ऑफ रीडिंग के इयान गिवन्स ने कहा, सैचुरेटेड फैट किस तरह से हृदय रोग के खतरे को बढ़ा देता है, इसे लेकर पिछले 5-10 सालों में काफी चचाएं हुई हैं।
एक मान्यता बन गई है कि सैचुरेटेड फैट से निश्चित रुप से खतरा बढ़ता है लेकिन असल में ऐसा नहीं है। इसके अलावा भी चीज खाने के कई फायदे हैं।
चीज, कैल्शियम और फॉस्फॉरस का बढ़िया स्रोत है। रोजाना इनके सेवन से हड्डियां मजबूत होती हैं। साथ ही जोड़ों में दर्द और दांत के रोगों को कम रखने में मददगार है।
पाचन और पाचन तंत्र के लिए मेटाबॉलिज्म का रोल महत्वपूर्ण है। चीज में अत्यधिक मात्रा में डायट्री फाइबर होते हैं जो भोजन के पाचन में बेहद मददगार होते हैं। यह पाचन तंत्र के सुचारू रूप से चलने के लिए बेहद फायदेमंद और महत्वपूर्ण है।
हाल ही में हुए एक शोध में यह साबित हुआ है कि चीज में कैंसर जनित कारणों और खतरों को कम करने की क्षमता है। पेट के कैंसर, कोलोन कैंसर और ब्रेस्ट कैंसर के इलाज में चीज बेहद प्रभावी साबित हुआ है।
ओमेगा-3 फैटी ऐसिड से भरपूर चीज डायबीटीज से भी बेहद प्रभावी तरीके से लड़ता है।
विशेषज्ञों का कहना है कि वे भी अपने डायबीटीज के पेशेंट्स को रोजाना चीज को अपने भोजन में शामिल करने की सलाह देते हैं। सबसे महत्वपूर्ण बात यह है, कि चीज दोनों टाइप के डायबीटीज के लिए प्रभावी साबित होता है।
दूध से बनने के कारण चीज भी दूध के गुणों का भंडार है, जिनमें ऊर्जा का स्रोत भी शामिल है। शरीर में तुरंत ऊर्जा के लिए चीज का सेवन फायदेमंद है। जिम जाकर कसरत करने वालों के लिए यह और भी फायदेमंद है।
जो लोग मोटापे की समस्या से परेशान हैं उन्हें ज्यादा मात्रा में चीज नहीं खाना चाहिए क्योंकि इसमें सैचुरेटेड फैट होता है। कोई भी फैट, जो कमरे के तापमान पर भी जमा रहता है वह सैचुरेटेड फैट होता है और संतुलित मात्रा में इसका इस्तेमाल किया जाए तो हार्ट के लिए अच्छा है। स्वस्थ जीवन के लिए हम जितनी कैलरी लेते हैं उसका 25-35 फीसदी या उससे कम हिस्सा ही फैट का होना चाहिए।
-एजेंसी