पहले राम को गाली देने से भी नहीं चूकते थे और अब राम याद आ रहे हैं: योगी

अयोध्या की मुफ्त यात्रा के अरविंद केजरीवाल के ऐलान पर तंज कसते हुये उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को कहा कि कोरोना काल में उत्तर प्रदेश और बिहार के श्रमिकों को दिल्ली से भगाने वाले दिल्ली के मुख्यमंत्री को चुनाव के समय भगवान राम और यूपी के लोग याद आ रहे हैं।
जब चुनाव पास आ रहा है तो इन्हे यूपी याद आ रहा है
भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के सामाजिक प्रतिनिधि सम्मेलन को संबोधित करते हुये योगी ने कहा कि कोरोना काल में लॉकडाउन के दौरान ‘आप’ सरकार ने उत्तर प्रदेश और बिहार के श्रमिकों को दिल्ली से भगाने का काम किया था। कोरोना काल में दिल्ली संभाल नहीं पाये। यूपी और बिहार के लोगों को भगा दिया गया और अब जब चुनाव पास आ रहा है तो इन्हे यूपी याद आ रहा है।
ये लोग पहले राम को गाली देने से भी नहीं चूकते थे
उन्होंने कहा ‘‘ये लोग पहले राम को गाली देने से भी नहीं चूकते थे मगर आज जब लग रहा है कि राम के बगैर नैया पार होने वाली नहीं है तो राम के दर्शन के लिये अयोध्या आ रहे हैं। अच्छी बात है, कम से कम राम के महत्व और अस्तित्व को इन्होने स्वीकार तो किया। अन्यथा विपक्षी दलों को कोई नेता ऐसा नहीं है जिन्होने छह दिसम्बर 1992 को स्वर्गीय बाबू जी (कल्याण सिंह) को कोसा न हो। कठघरे में खड़ा न किया हो मगर उस समय भी पूरी मजबूती के साथ खड़े रहे थे बाबूजी।
दिल्ली के लोगों को कल से अयोध्या तीर्थ यात्रा फ़्री कराएंगे, योगीजी… इसमें आपको आपत्ति क्यों
उन्होंने कहा था कि यदि कोई जिम्मेदारी तय होती है तो कल्याण सिंह की होनी चाहिये और यह जिम्मेदारी कल्याण सिंह लेने को तैयार है। ’’ इस बीच योगी के बयान पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुये केजरीवाल ने ट्वीट किया ‘‘दिल्ली मतलब सबको मुफ्त दवाई, बेहतर शिक्षा, बेटियों की सुरक्षा, बुजुर्गों का सम्मान। आज मैंने एलान किया कि दिल्ली के लोगों को कल से अयोध्या तीर्थ यात्रा फ़्री कराएंगे। फिर इसे यूपी में भी लागू करेंगे। इस योजना से करोड़ों जनता प्रभु के दर्शन कर पाएगी। योगीजी, इसमें आपको आपत्ति क्यों।’’
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *