KD डेंटल काॅलेज के डाॅ. शिशिर मोहन ने किया नया फ्लैप डिजाइन

KD डेंटल कॉलेज एंड हॉस्पिटल के ओरल एंड मैक्सीलोफेसियल सर्जरी विभाग के अध्यक्ष डाॅ. शिशिर मोहन गर्ग ने दंत चिकित्सा के क्षेत्र में एक नया अनुसंधान कर ब्रज की गरिमा को चार चांद लगा दिए हैं। डॉ. गर्ग ने फिस्ट्यूला को तालू की शल्य चिकित्सा से बंद करने का नया फ्लैप डिजाइन किया है जिसका नाम उन्होंने ब्रज फ्लैप दिया है।

डॉ. गर्ग का कहना है कि डेंटल एंड ओरल सर्जरी में तालू में नाक और मुंह के बीच छेद या नाक और साइनस के बीच का छेद इंसान की जिन्दगी में काफी दिक्कतें पैदा करता है। इस समस्या से पीड़ित मरीज द्वारा जब भी कोई तरल पदार्थ सेवन किया जाता है तब वह छेद की वजह से नाक से निकलने लगता है तथा उसकी आवाज बदल जाती है। इससे वह अपने आपको न केवल असहज महसूस करता है बल्कि स्वयं को लज्जित भी महसूस करता है। डॉ. गर्ग का कहना है कि यह छेद अमूमन दांत निकलवाने, चोट लगने या मुंह के संक्रमण से हो जाता है। इस समस्या को ओरोनेजल एवं ओरोएंट्रल फिस्ट्यूला कहा जाता है।

लोगों को इस समस्या से निजात दिलाने के लिए डॉ. शिशिर मोहन गर्ग ने फिस्ट्यूला को तालू की शल्य चिकित्सा से बंद करने के लिए नया फ्लैप डिजाइन किया है। डॉ. गर्ग बताते हैं कि यह अन्य तालू के फ्लैप डिजाइनों से ज्यादा सफल और कारगर है। डॉ. गर्ग के इस अनुसंधान और डिजाइन को अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के डेंटल विभाग की शोध-पत्रिका में विस्तार से प्रकाशित किया गया है। डॉ. गर्ग कहते हैं कि मैंने ब्रज फ्लैप नाम इसलिए चुना है क्योंकि मथुरा ब्रज क्षेत्र में आता है। डॉ. गर्ग यह टेक्निक अब तक कई मरीजों में सफलतापूर्वक इस्तेमाल कर चुके हैं। KD डेंटल कॉलेज एण्ड हॉस्पिटल की नैतिक समिति ने न केवल इस शोध पर अपनी सहमति दी बल्कि संस्थान के प्राचार्य डॉ. मनेश लाहौरी ब्रज फ्लैप को दंत चिकित्सा एवं ओरल एण्ड मैक्सीलोफेसियल सर्जरी क्षेत्र में बहुत ही उपयोगी मान रहे हैं।

आर. के. एजुकेशन हब के अध्यक्ष डाॅ. रामकिशोर अग्रवाल, उपाध्यक्ष पंकज अग्रवाल तथा प्रबंध निदेशक मनोज अग्रवाल ने KD डेंटल कॉलेज एण्ड हॉस्पिटल मथुरा के चिकित्सकों को समाजोपयोगी शोध के लिए बधाई देते हुए कहा कि इस तरह के अनुसंधानों से ही हम समाज को बेहतर से बेहतर और सस्ती चिकित्सा सुविधाएं मुहैया करा सकेंगे।
-Legend News

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *