Payal Tadvi सुसाइड केस में आरोपी 1 महिला डॉक्टर गिरफ्तार

मुंबई। मेडिकल छात्रा Payal Tadvi सुसाइड केस में मुंबई पुलिस ने एक आरोपी महिला डॉक्टर भक्ति मेहर को गिरफ्तार कर लिया है। अभी भी दो आरोपी महिला डॉक्टर फरार हैं।

मेडिकल छात्रा पायल तडवी के आत्महत्या के मामले में मुंबई पुलिस ने एक आरोपी महिला डॉक्टर को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने मुंबई में डॉ. भक्ति मेहर को गिरफ्तार कर लिया है। अभी भी आरोपी डॉक्टर हेमा आहूजा अंकिता खंडेलवाल 22 मई से लापता हैं, जिस दिन डॉ. तडवी का शव उनके हॉस्टल के कमरे में लटका मिला था।

इससे पहले आज डॉ. पायल तडवी के पति डॉ. सलमान तडवी ने अपने परिवार के अन्य सदस्यों के साथ मुंबई के BYL नायर अस्पताल के बाहर धरना दिया। मीडिया से बात करते हुए डॉ. सलमान ने दावा किया कि उनकी पत्नी की मौत उन तीन महिला डॉक्टरों द्वारा की गई हत्या हो सकती है, जिन पर पायल ने उत्पीड़न और प्रताड़ित करने का आरोप लगाया था।

उन्होंने परिवार द्वारा किए गए दावों को भी दोहराया कि अस्पताल में अधिकारियों से एक बार नहीं बल्कि कई बार जातिवाद का आरोप लगाने वाली शिकायतों पर संपर्क किया गया था।

बीवाईएल नायर अस्पताल में स्त्री रोग के दूसरे वर्ष की छात्रा डॉ. पायल ने 22 मई को अपने होटस्ट के कमरे में कथित तौर पर फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी। उसके निधन के बाद डॉ. पायल की मां और परिवार के अन्य सदस्यों ने आरोप लगाया कि उसे तीन महिला वरिष्ठ डॉक्टरों द्वारा कथित तौर पर उसकी जाति और आदिवासी पृष्ठभूमि को लेकर मानसिक रूप से प्रताड़ित किया जा रहा था।

इस संबंध में अगरीपाड़ा पुलिस स्टेशन ने रविवार को आत्महत्या के लिए उकसाने, रैंगिंग करने समेत कई मामलों में कम से कम तीन महिला डॉक्टरों डॉ. हेमा आहूजा, डॉ. भक्ति मेहरे और डॉ. अंकिता खंडेलवाल के खिलाफ मामला दर्ज किया। शुरुआती जांच के आधार पर उन्हें निलंबित कर दिया गया।

पायल और उनके परिवार ने इससे पहले तीन वरिष्ठ महिला डॉक्टरों के खिलाफ अस्पताल प्रशासन से रैंगिग, जनजातीय होने को लेकर तंज कसने, ऑपरेशन थियेटर में घुसने नहीं देने, सोशल मीडिया पर अपमानजनक संदेश भेजने को लेकर शिकायत भी की थी।
-एजेंसी

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *