Doordarshan के दर्शकों की संख्या 46% तक की ग‍िरावट: सर्वे

नई द‍िल्ली। पिछले हफ्ते के उलट इस हफ्ते Doordarshan के दर्शकों की संख्या 46% तक की ग‍िरावट दर्ज की गई। यह गिरावट दर्शकों में देखी गई क्योंकि हाल ही में रामायण खत्म हुई तो Doordarshan चैनल पर ‘उत्तर रामायण’ शुरुआत की गई। लिहाजा 16वें सप्ताह में दर्शकों की संख्या में 46% की गिरावट दर्ज की गई।

यूं तो 16वें हफ्ते में कुल टीवी दर्शकों की संख्या में गिरावट आई है, पूरे देश में टीवी देखे जाने के कुल समय में 31 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई है। बार्क इंडिया व नील्सन मीडिया द्वारा संयुक्त रूप से जारी की गई ‘क्राइसिस कंज्प्सन ऑन टीवी एंड स्मार्टफोन’ की रिपोर्ट के छठे एडिशन के मुताबिक 15वें हफ्ते में यह वृद्धि 40 प्रतिशत थी। रिपोर्ट में इस हफ्ते की कुछ प्रमुख बातों का भी उल्लेख किया गया है।

रामायण के बाद ‘उत्तर रामायण’ धारावाहिक दिखाया जा रहा है, जो राम के राज्याभिषेक और उनके जुड़वां बच्चे लव-कुश पर केंद्रित है। सुबह 9 बजे चैनल पर जो गिरावट दर्ज की गई है, वह ‘उत्तर रामायण’ को रिपीट करने की वजह से है। इसलिए सुबह के दर्शकों का रुख न्यूज, किड्स और म्यूजिक चैनल्स की ओर शिफ्ट हो गया है, जबकि शाम के दर्शक दूसरे जनरल एंटरटेनमेंट चैनल्स या फिर मूवीज चैनल्स की ओर शिफ्ट हो गए हैं। इसके अलावा दर्शक प्राइम टाइम देखना भी पसंद कर रहे हैं। अधिकांश दर्शक जो अन्य जनरल एंटरटेनमेंट चैनल्स की ओर शिफ्ट हो गए हैं, उन्होंने पौराणिक नाटकों को प्राथमिकता दी है।

भले ही पिछले हफ्ते की तुलना में न्यूज और मूवीज जॉनर दोनों में भले ही गिरावट दर्ज की गई हो, लेकिन ये जॉनर ही टीवी दर्शकों की संख्या में वृद्धि का प्रमुख कारण हैं। न्यूज जॉनर ने 16वें हफ्ते में 164% की वृद्धि दर्ज की, जबकि 15वें हफ्ते में 195% की वृद्धि दर्ज की थी। इसी तरह से, मूवीज जॉनर 16वें हफ्ते में 61 प्रतिशत की बढ़त दर्ज की है, जबकि बीते हफ्ते यह बढ़त 67 प्रतिशत थी।

रिपोर्ट के मुताबिक, हिंदी भाषी क्षेत्रों में जनरल एंटरटेनमेंट चैनल्स की पूरे भारत में सबसे ज्यादा रही है। इस हफ्ते हिंदी भाषी क्षेत्रों में यह बढ़त 31 प्रतिशत हुई है। रिपोर्ट यह भी बताती है कि 12वें हफ्ते से न्यूज और मूवीज का शेयर कम होना शुरू हो गया है। हालांकि यह अभी भी कोविड-19 से पहले की तुलना में लगभग दोगुना बना हुआ है।

– एजेंसी

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *