बरसात के मौसम में कीड़ा काटे तो करें ये घरेलू उपचार

बरसात के मौसम में अक्‍सर आपको कीड़े मकौड़े काट लेते हैं। इनमें कई जहरीले और घातक भी होते हैं। बेहतर यही है कि ऐसा कुछ भी होने पर आप डाक्‍टर से संपर्क करें लेकिन अगर तुरंत डाक्‍टर के पास जाना संभव नहीं है तो कुछ घरेलू उपचार हैं जो आपको मालूम होने चाहिए ताकि आप किसी बड़े नुकसान का शिकार ना हों। आइये जाने ऐसे कुछ उपाय।

अगर बिच्छू डंक मारे: अगर बिच्छू किसी भी व्यक्ति को डंक मारे तो तुरंत प्याज का रस निकालकर उसमे थोडा नौसादर मिला कर उसे डंक वाले स्थान पर लगायें। इसके अलावा आप पिसी हल्दी को तवे पर गरम करके लगा सकते हैं।

अगर सांप काट ले: वैसे तो गांव और शहर में पाये जाने वाले 90 प्रतिशत सांप जहरीले नहीं होते हैं। फिर भी आप देख कर तो ये तय नहीं कर सकते कौन सा सांप जहरीला है और कौन सा नहीं इसलिए एक तो ना खुद पैनिक करें और ना ही उस व्यक्ति को करने दें जिसको सांप ने काटा है। कई नुकसान तो सिर्फ डर के चलते होते हैं, जिनका जहर से कोई लेना देना ही नहीं। सबसे पहले तो सांप के काटने वाले स्थान को दोनो ओर से कस कर बांध दें ताकि रक्त प्रवाह धीमा हो जाये और जहर ना फैले। इसके बाद 50 ग्राम देशी घी में करीब 1 ग्राम फिटकारी अच्छी तरह पीसकर मिला लें। इसे साप के काटने वाली जगह पर लगायें, इससे जहर उतर जायेगा।

बर्र, चींटी या मधुमक्खी के डंक मारने पर अगर आप को बर्र, चींटी या मधुमक्खी ने डंक मार दिया है तो घर में मौजूद कोई भी मिंट वाली चीज जैसे टूथपेस्ट आदि या खाने वाला चूना लगायें। आप डंक वाले स्थान पर प्याज का रस भी लगा सकते हैं।

चूहे के काटने पर: इसी तरह अगर आपको चूहा काट ले तो घर में रखे पुराने नारियल जो लाल हो कर खराब हो गया हो थोड़ा सा घिस लें और उस में मूली का रस मिला कर काटने वाली जगह पर लगायें। आप चौलाई की जड़ को पीस कर शहद के साथ दिन में तीन चार बार खायें, उससे भी चूहे के काटने के दुष्प्रभाव नहीं होते।

मकड़ी के काटने या रगड़ने पर: मकड़ी काटती तो कम है पर उसके सोते हुए शरीर से रगड़ने जिसे मकड़ी का चलना भी कहते हैं, की वजह से इन्फेक्शन होने का खतरा रहता है। ऐसे में संक्रमण वाले स्थान पर पिसे अमचूर या पिसी खटाई को पानी में मिला कर उसका पेस्ट लगायें।

Health Desk : Legend News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *