लौटना नहीं चाहते लॉकडाउन के बीच भारत में फंसे अमरीकी

नई दिल्‍ली। कोरोना के खौफ से हुए लॉकडाउन के बीच भारत में फंसे कुछ अमेरिकी लोग खुद को भाग्‍यवान मान रहे हैं। इसकी मुख्य वजह से कोरोना द्वारा अमेरिका में मचाई गई तबाही है। पिछले हफ्ते ऑस्ट्रेलिया ने अपने 444 लोगों को स्पेशल फ्लाइट भेजकर भारत से एयरलिफ्ट कर लिया लेकिन बहुत से देशों के लोग खासकर अमेरिका, वापस नहीं जाना चाहते।
बाकी सरकारों की तरह अमेरिकी प्रशासन भी दूसरे देशों में फंसे अपने लोगों को निकाल रहा है। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप ऐसे 50 हजार लोगों को निकालने का दावा कर चुके हैं। इसी बीच अमेरिकी प्रशासन ने इस बात की पुष्टि की थी कि कई नागरिकों ने फिलहाल भारत में ही रुकने की इच्छा जताई है।
अमेरिका के करीब 24000 लोग अभी भारत में
अमेरिका के ही एक अधिकारी ने वहां की मीडिया को बताया था कि करीब 24000 अमेरिका फिलहाल भारत में हैं। करीब 800 लोगों को पूछा गया था कि क्या वे फ्लाइट से वापस अमेरिका आना चाहते हैं तो इस पर सिर्फ 10 ने आने की हामी भरी थी। अमेरिका में अब तक पूरी दुनिया में सबसे ज्यादा 5 लाख से ज्यादा कोरोना मरीज मिल चुके है। इतना ही नहीं, वहां 22 हजार से ज्यादा लोगों की मौत भी हो चुकी है।
इस बीच इंग्लैंड अपने लोगों को निकाल रहा है। इस हफ्ते उनकी 12 और चार्टर फ्लाइट अमृतसर, नई दिल्ली, मुंबई, गोवा, चेन्नै, हैदराबाद, कोच्चि, बेंगलुरु, अहमदाबाद और कोलकाता आएंगी। इससे पहले 20 हजार ब्रिटेन के लोग वापस अपने देश गए थे।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *