Haldighati युद्धतिथि 18 जून को रणभूमि में दीपोत्सव

खमनोर। Haldighati युद्ध की 443वीं युद्धतिथि पर शहीदों की स्मृति में दीप महोत्सव 18 जून मंगलवार को मनाया जाएगा। भारत के प्रथम स्वतंत्रता सेनानी वीर शिरोमणी, प्रातः स्मरणीय महाराणा प्रताप द्वारा मातृभूमि की आन,बान एवं शान की रक्षार्थ 18 जून 1576 को आम जन के सहयोग से लड़े गए हल्दीघाटी के जनयुद्ध में सभी जाति संप्रदाय के कई देशभक्त शहीद हुए थे।

हल्दीघाटी युद्ध की 443वीं युद्धतिथि पर अवसर पर शहीद स्मारकों पर दीपांजलि स्वरुप श्रद्धांजलि दी जायेगी।

दीपांजलि आयोजन से जुड़े कमल पालीवाल ने बताया कि स्वाभिमानी धरा पर वीरता दिवस के रुप में हल्दीघाटी पर्यटन समिति एवं प्रेस क्लब ने सन् 2008 से प्रतिवर्ष युद्ध तिथि पर दीपांजलि अर्पित कर हल्दीघाटी रणक्षेत्र में युद्ध दिवस के आयोजन में भव्यता देने का नवाचार अपनाया व क्षेत्र के युवाओं को इस समारोह से जोड़ने का प्रयास आरम्भ किया था।

इस वर्ष युद्ध की 443वीं तिथि पर भी हल्दीघाटी के शहीदों की याद में अतिथियों की मौजूदगी में स्थानीय हल्दीघाटी पर्यटन समिति,जय हल्दीघाटी नवयुवक मण्ड़ल, ब्रह्मशक्ति नवयुवक मण्ड़ल व अन्य युवा मण्ड़लों के सानिध्य में 18 जून 2019 मंगलवार को खमनोर गांव स्थित रक्ततलाई में 5001 दीपक प्रज्वलन करते हुए हल्दीघाटी युद्धतिथि दीप महोत्सव आयोजित किया जा रहा है।

पंचायत समिति द्वारा प्रशासनिक स्तर पर युद्धतिथि के महत्व को समझते हुए हल्दीघाटी युद्ध की 443वीं युद्धतिथि पर अवसर पर शहीद स्मारकों पर दीपांजलि स्वरुप श्रद्धांजलि दी जायेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »