जम्मू-कश्मीर के डीजीपी ने कहा, नौजवानों को एनकाउंटर वाले इलाकों में नहीं आना चाहिए

DGP of Jammu and Kashmir said, young people should not come in the areas of encounter
जम्मू-कश्मीर के डीजीपी ने कहा, नौजवानों को एनकाउंटर वाले इलाकों में नहीं आना चाहिए

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर के डीजीपी एस पी वैद ने युवाओं को घर से बाहर न निकलने की नसीहत दी है। डीजीपी ने कहा कि तमाम कोशिशों के बाद भी हम मुठभेड़ में मारे जाने वाले नागरिकों की संख्या रोकने में नाकाम साबित हो रहे हैं।
डीजीपी एस पी वैद ने कहा, युवा नागरिकों को उकसाया जा रहा है और उन्हें सेना पर पत्थर मारने को कहा जा रहा है। युवाओं को पथभ्रमित किया जा रहा है और उन्हें मुठभेड़ की जगहों पर जाने के लिए उकसाया जा रहा है।
जम्मू-कश्मीर डीजीपी ने कहा कि बंदूक से निकली गोली यह नहीं देखती कि वह किसे लगेगी। नौजवानों को घर पर रहना चाहिए और एनकाउंटर वाले इलाकों में नहीं आना चाहिए, यह मेरा निवेदन है। उन्होंने कहा कि जो नौजवान एनकाउंटर साइट पर आ रहे हैं वे जानबूझ कर आत्महत्या करने जा रहे हैं।
Bullet does not see who is coming or who it will hit.Young boys should stay at homes,& not come to encounter sites.This is my appeal:DGP J&K pic.twitter.com/bGvHDgalaq
—ANI (@ANI_news) March 30, 2017
गौरतलब हो कि बडगाम के चदूरा इलाके में 2 आतंकियों के छिपे होने की खबर मिलने के बाद तलाशी अभियान शुरू हुआ लेकिन दिनभर स्थानीय लोग सुरक्षाबलों पर पत्थर बरसाते रहे।
एक तरफ सुरक्षाबलों को आतंकी चुनौती दे रहे थे तो दूसरी तरफ स्थानीय नागरिक पत्थर बरसा रहे थे। इस बीच कई सीआरपीएफ जवान घायल हो गए और मुठभेड़ में तीन नागरिक भी मारे गए।
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *