श्रीकृष्ण जन्मस्थान पर भक्तों ने खेली होली, कोरोना का खौफ बेअसर

मथुरा। ब्रज में श्रीकृष्ण जन्मस्थान पर आज रंगभरनी एकादशी पर होली में रंगों के साथ साथ प्रेम आनंद बरसा, कार्ष्णि गुरु शरणानंद महाराज ने श्रीकृष्ण जन्मस्थान पर राधाकृष्ण की युगल जोड़ी की आरती कर होली महोत्सव का शुभारंभ किया। इसके साथ ही परिसर में मौजूद भक्त होली के रंगों में सराबोर होकर झूमने लगे। श्रीकृष्ण-जन्मस्थान की सुप्रसिद्ध लठामार होली महोत्सव का शुभारम्भ भगवान गणेश की स्तुति एवं वन्दना के साथ दोपहर लगभग दो बजे हुआ। श्रीकृष्ण-जन्मभूमि की इस अलौकिक लठामार होली में हुरियारों द्वारा धारण की हुई ढाल एवं तेल में भीगी हुरियारिनों की रंग-बिरंगी लाठिया भी प्रिया-प्रियतम की अलौकिक होली भाव उत्पन्न कर रहीं थी।

श्रीकृष्ण जन्मस्थान परिसर में आयोजित होली महोत्सव में कई श्रद्धालु मास्क लगाकर पहुंचे
श्रीकृष्ण जन्मस्थान परिसर में आयोजित होली महोत्सव में कई श्रद्धालु मास्क लगाकर पहुंचे

शुक्रवार सुबह से भगवान श्रीकृष्ण की जन्मभूमि पर भक्ति के रंगों की ऐसी हिलोरे उठ रही हैं कि मथुरावासियों के साथ देश-विदेश से आए भक्त भी उसमें रंगे हुए नजर आ रहे हैं। हर कोई कान्हा के प्रसादी रंग में रंग गया है। हर ओर रंग बिरंगे उड़ते गुलाल से वातावरण सतरंगी हो गया है।

श्रीकृष्ण जन्मस्थान के होली महोत्सव में कई कार्यक्रमों का आयोजन किया जा रहा है। रावल गांव के हुरियारे और हुरियारिनों ने लठमार होली खेलने आए हैं। इस उत्सव में फूलों की होली के बाद पहली बार सुगंधित द्रव्य की होली खेली जा रही है। कलाकार गीत और नृत्य के बीच होली की प्रस्तुति दे रहे हैं।

होली के परंपरागत लोकगीत एवं भजन का गायन एवं उस पर ब्रज क्षेत्र मथुरा, कासगंज, टप्पल, बुलन्दशहर, दिल्ली, मुंबई व जैसलमेर, (राजस्थान), पानीपत (हरियाणा) के विश‍िष्ट कलाकारों द्वारा नृत्य आदि कर, प्रिया-प्रियतम की इस होली का रस एवं भावमय प्रस्तुतीकरण किया। सुप्रसिद्ध लठामार होली कार्यक्रम का समापन जन्मस्थान प्रांगण में फूलों की होली के मध्य गायन एवं लठ और ढाल के साथ परस्पर होली खेलते ग्राम रावल एवं श्रीकृष्ण संकीर्तन मण्डल के हुरियारे-हुरियारिनों को देखकर प्रिया-’प्रियतम की प्रिय होली लीला सजीव एवं साकार हो उठी। लठामार होली के मध्य हुई सुगन्धित द्रव्य, पुष्प वर्षा, गुलाल की वर्षा से नयनाभिराम अलौकिक दृश्य उत्पन्न हो गया।

कोरोना वायरस का खौफ भक्तों पर बेअसर रहा हालांक‍ि श्रीकृष्ण जन्मस्थान परिसर में आयोजित होली महोत्सव में कई श्रद्धालु मास्क लगाकर पहुंचे हैं। बता दें कि श्रीकृष्ण जन्मस्थान सेवा संस्थान के पदाधिकारियों ने जुकाम, खांसी और वायरल आदि संबंधी परेशानी से पीड़ित लोगों को आयोजन में न आने की अपील की है।

जन्मभूमि के लीलामंच पर हुऐ विभिन्न सांस्कृतिक कार्यक्रमों को देखने हेतु महिला श्रद्धालुओं के बैठने की विशेष व्यवस्था श्रीकृष्ण जन्मस्थान संस्थान प्रबंधन द्वारा की गई।
कार्यक्रम को भव्य एवं मर्यादित रूप से संपन्न कराने के लिए श्रीकृष्ण-जन्मस्थान सेवा-संस्थान के सचिव कपिल शर्मा, सदस्य गोपेश्वरनाथ चतुर्वेदी एवं जय श्रीकृष्ण लठामार होली समिति के पदाधिकारी किशोर भरतिया, नन्दकिशोर अग्रवाल, अनिलभाई, विजय बंसल आदि अन्य सदस्य निरन्तर व्यवस्थाओं में जुटे हुऐ थे तथा पुलिस-प्रशासन का विशेष सहयोग रहा।

श्रीकृष्ण जन्मस्थान सेवा संस्थान के सचिव कपिल शर्मा ने कहा कि संपूर्ण विश्व में लोगों को भयभीत करने वाले कोरोनावायरस को देखते हुए लोगों से अपील की गई है। उन्होंने कहा कि इस महामारी से रोगमुक्त-भयमुक्त करने के लिए केशवदेव के श्रीचरणों में प्रार्थना की जाएगी।

– Legend News

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *