कोरोना नियंत्रण की समीक्षा करने आगरा आए उप मुख्‍यमंत्री की तबीयत बिगड़ी

आगरा। सोमवार को आगरा में कोरोना नियंत्रण की समीक्षा करने आए उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा की तबीयत अचानक बिगड़ गई। सर्किट हाउस में बैठक के दौरान अचानक उनकी नाक से खून आने लगा। उनका ब्लड प्रेशर अनियंत्रित हो गया। उपमुख्यमंत्री की तबीयत खराब होने से प्रशासनिक अफसरों में हड़कंप मच गया। आनन-फानन में मेडिकल टीम ने उनका स्वाथ्य परीक्षण किया।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. आरसी पांडेय ने बताया कि खुष्की के कारण उनकी नाक से खून आ गया था। ब्लड प्रेशर नॉर्मल था। उनका स्वाथ्य ठीक है। एडीएम सिटी डॉ. प्रभाकांत अवस्थी ने बताया वायुयान से यात्रा के कारण उन्हें हल्की असुविधा हुई थी।
उन्होंने स्वास्थ्य परीक्षण कराया, स्वाथ्य ठीक है। चिंता की कोई बात नहीं। स्वस्थ्य परीक्षण के बाद उन्होंने कोविड की समीक्षा और जनप्रतिनिधियों के साथ दो घंटे बैठक की। सोमवार सुबह 9:30 बजे डॉ. दिनेश शर्मा राजकीय वायुयान से आगरा पहुंचे थे। बैठक के बाद दोपहर 12 बजे उपमुख्यमंत्री कार से मथुरा के लिए रवाना हो गए।

गंदगी व जलभराव से कब मिलेगी मुक्ति

उपमुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा के सामने विधायक महेश गोयल, जितेंद्र वर्मा, हेमलता दिवाकर ने गांव-गांव गंदगी व जलभराव से मुक्ति दिलाने की मांग की। बरसात से पहले नाले-नालियों की सफाई व तालाबों की खुदाई नहीं होने की शिकायत की।

विधायक पुरुषोत्तम खंडेलवाल ने शहर की सड़कों पर जगह-जगह कीचड़ जमा होने का मामला उठाया। सासंद राजकुमार चाहर ने कहा ग्रामीण क्षेत्रों में विशेष सफाई अभियान नहीं शुरू हो सका। बरसात में गंदगी से बीमारियां फैलने की आशंका है।

बैठक में मेयर नवीन जैन ने निगम का पक्ष रखा। मुख्य विकास अधिकारी जे. रीभा ने बताया उपमुख्यमंत्री ने ग्रामीण क्षेत्रों में सफाई और जलभराव दूर कराने के निर्देश दिए हैं। रोस्टर बना कर प्रत्येक ब्लॉक में सफाई कराई जाएगी।
गौरतलब है कि आगरा में अगस्त महीने में कोरोना संक्रमण तेजी से बढ़ रहा है। शनिवार को 38 नए कोरोना मरीज मिले। इससे कुल संक्रमितों का आंकड़ा 2103 पर पहुंच गया। इससे पूर्व पांच अगस्त को 35, छह को 38, सात को 30, आठ को 34 संक्रमित मिले थे।

प्रशासन की रिपोर्ट के मुताबिक रविवार तक 1694 मरीज ठीक हो चुके हैं, जबकि 308 संक्रमितों का उपचार चल रहा है। 101 संक्रमितों की मौत हो चुकी है। 66275 लोगों के सैंपल टेस्ट किए जा चुके हैं। कोरोना मरीज बढ़ने के साथ शहर में नौ और देहात में चार समेत रविवार को 13 नए कंटेनमेंट जोन और बढ़ गए।

-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *