हेल्दी डाइट के जरिए भी बचा जा सकता है डिप्रेशन से

अवसाद यानी डिप्रेशन आज के जीवन का काला सच है। इस मानसिक रोग की गिरफ्त में आने की कोई निश्चित उम्र या निश्चित कारण नहीं हैं। स्कूल जाने वाले मासूम बच्चे भी डिप्रेशन के शिकार हो सकते हैं और जॉब से रिटायरमेंट ले चुके सीनियर सिटीजन्स भी।
यहां न्यूट्रिशनिस्ट नमित त्यागी बता रहे हैं कि जिस तरह शुगर, हाईबीपी, लंग्स और किडनी की बीमारी से बचने के लिए डाइट ली जाती है, ठीक इसी तरह यह बात भी हम सभी को पता होनी चाहिए कि दिमाग को हेल्दी रखने के लिए किस तरह की डाइट लेना सही रहता है।
डिप्रेशन से बचने के लिए जरूरी है ऐसी डाइट
-न्यूट्रिशनिस्ट नमित त्यागी कहते हैं कि हम जो भोजन खाते हैं, उसमें कुछ चीजों की मात्रा को घटा और बढ़ाकर इस बात को सुनिश्चित कर सकते हैं कि डिप्रेशन जैसा मनोरोग हमारे दिमाग पर हावी ना हो पाए और हम इसके लक्षणों को नियंत्रित कर पाएं।
-इसके लिए जरूरी है कि हम अपनी डाइट में ऐसे भोज्य पदार्थों को शामिल करें, जो एंटिऑक्सीडेंट्स से भरपूर होते हैं। जिनमें कॉम्प्लेक्स कार्ब्स, लीन प्रोटीन, विटामिन-बी कॉम्प्लेक्स और विटामिन-बी 9 और बी-12 जैसे सभी जरूरी पोषक तत्व शामिल हों।
-आपको याद दिला दें कि एक शार्प और स्वस्थ दिमाग के लिए यहां बताए गए सभी पोषक तत्वों के साथ ही ओमेगा-3 फैटी एसिड भी बहुत जरूरी होता है क्योंकि यह ब्रेन फंक्शन को बेहतर बनाए रखने के लिए बहुत उपयोगी होता है। साथ ही याददाश्त को सही बनाए रखने में भी ओमेगा-3 फैटी एसिड महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।
ऐसे मिलेगा कॉम्प्लेक्स कार्बोहाइड्रेट
-शरीर की संपूर्ण हेल्थ के लिए सभी पोषक तत्व एक निश्चित मात्रा में जरूरी होते हैं। शरीर को सही मात्रा में कार्बोहाइड्रेट मिले इसके लिए जरूरी है कि आप अपने भोजन में ब्राउन राइज, क्विनोआ, मिलेट और दलिया शामिल करें। ये चीजें आपको दिनभर ऊर्जावान बनाए रखेंगी।
लीन प्रोटीन की प्राप्ति का तरीका
-दिमाग को स्वस्थ रखने के साथ ही किसी बात पर जल्दी रिस्पॉन्स करने और जल्दी निर्णय लेने की क्षमता लीन प्रोटीन से मिलती है। इस प्रोटीन की प्राप्ति के लिए आपको अपनी डाइट में चिकन, फिश और अंडे शामिल करने चाहिए।
-अगर आप नॉनवेज का सेवन नहीं करते हैं तो इसकी प्राप्ति के लिए हर दिन ड्राई फ्रूट्स, सोयाबीन और हेल्दी सीड्स जैसे चिया सीड्स, अलसी के बीच इत्यादि का सेवन करें।
अमीनो एसिड की प्राप्ति के लिए
-हमारे शरीर को स्वस्थ रखने में अमीनो एसिड्स का बड़ा रोल होता है। शरीर को जो पोषक तत्व भोजन के द्वारा प्राप्त होते हैं, वे शरीर में अच्छी तरह संचित और अवशोषित हो पाएं इस काम में अमीनो एसिड्स का बड़ा रोल होता है।
-अमीनो एसिड्स की प्राप्ति के लिए आप अपनी डाइट में साबुत अनाज, होल ग्रेन ब्रेड और सेलेरीज इत्यादि का सेवन करें। इनके सेवन से आपके ब्रेने में हेल्दी न्यूरोट्रांसमीटर्स जैसे सेरेटॉनिन, डोपामिन का उत्पादन बढ़ता है। ये न्यूरोट्रांसमीटर्स आपके ब्रेन को स्वस्थ रखने के लिए हैपी हॉर्मोन्स की तरह काम करते हैं।
-जब दिमाग में इन न्यूरोट्रांसमीटर्स की कमी हो जाती है तो व्यक्ति तनाव, चिंता और डिप्रेशन यानी अवसाद की चपेट में आने लगता है इसलिए आपको हर दिन डाइट में एक टाइम पर साबुत अनाज का सेवन अवश्य करना चाहिए।
ओमेगा-3 फैटी एसिड्स
-ओमेगा-3 फैटी एसिड्स की प्राप्ति के लिए प्लांट बेस्ड डाइट और डेयरी प्रोडक्ट्स दोनों ही बेहतर सोर्स होते हैं लेकिन इनमें से भी उन फूड्स को चुनना बेहतर होता है जिनमें ओमेगा-3 फैटी एसिड्स की मात्रा हाई हो। इसके लिए आप टोफू, अखरोट, सेलमन फिश इत्यादि का चुनाव कर सकते हैं।
-इन सभी के सेवन से आपके शरीर को मैग्निशियम की प्राप्ति होती है। मैग्निशियम रिच डाइट आपके दिमाग में सूजन को नहीं बढ़ने देती है। आपको बता दें कि कई आंतरिक और बाह्य प्रक्रियाओं के कारण हमारे शरीर की आंतरिक नसों और त्वचा में सूजन पैदा होने की स्थिति बनती रहती है। जो लोग सही डाइट का सेवन नहीं करते हैं, उनके शरीर में यह सूजन बढ़ने से कई तरह की बीमारियां पैदा हो जाती हैं इसलिए जरूरी है कि आप अपने दैनिक भोजन में पोषक तत्वों का पूरा ध्यान रखें।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *