पुलवामा हमले के खिलाफ जम्मू में जगह-जगह प्रदर्शन, कर्फ्यू लगा

जम्मू। पुलवामा हमले में 38 जवानों के शहीद होने के बाद लोगों का गुस्सा सड़कों पर उतर आया है। आतंकी घटना के विरोध में जम्मू में जगह-जगह प्रदर्शन हो रहे हैं। कई जगह गाड़ियां भी फूंकी गई हैं। इसके साथ ही इंटरनेट सेवा सस्पेंड कर दी गई है। स्थिति को देखते हुए प्रशासन ने पूरे जम्मू में कर्फ्यू लगा दिया गया है। वहीं सेना भी लोगों से सहयोग की अपील कर रही है। गुज्जर नगर इलाके में प्रदर्शनकारियों ने कई वाहनों को आग लगा दी गई। दो गुटों में हुए पथराव में डीआईजी विवेक गुप्ता समेत लगभग 40 लोग घायल हो गए हैं। हालात काफी तनाव पूर्ण हैं। जगह-जगह सुरक्षा बल तैनात कर दिए गए हैं।
बता दें कि गुरुवार को जम्मू से श्रीनगर जा रहे सीआरपीएफ जवानों के काफिले की एक बस पर आत्मघाती हमला किया गया जिसमें 38 जवान शहीद हो गए। अधिकारियों ने बताया कि सेना ने कानून और व्यवस्था की स्थिति बनाए रखने के लिए स्थानीय लोगों से प्रशासन की मदद करने का अनुरोध किया और फ्लैग मार्च निकाला।
राजनाथ ने शहीद के पार्थिव शरीर को दिया कंधा
अधिकारियों ने बताया कि सांप्रदायिक हिंसा की आशंका के चलते कर्फ्यू लगाया गया है। यह भी कहा जा रहा है कि लाउडस्पीकर्स पर कर्फ्यू लागू किए जाने की घोषणा होने के बाद भी प्रदर्शनकारी वापस नहीं लौटे। दूसरी ओर श्रीनगर के बडगाम में शहीद जवानों को श्रद्धांजलि दी जा रही है। गृहमंत्री राजनाथ सिंह और गर्वनर सत्यपाल मलिक ने शहीद जवानों के पार्थिव शरीर को फूल चढ़ाकर सलामी दी। राजनाथ ने शहीद जवानों के पार्थिव शरीर को कंधा भी दिया। उनके साथ सेना के नॉर्दर्न कमांड के चीफ लेफ्टिनेंट जनरल रणबीर सिंह भी मौजूद रहे।
अजित डोभाल ने सुरक्षाबलों के साथ की बैठक
जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर हमले के बाद सुरक्षाबलों ने तेजी से कार्यवाही शुरू कर दी है। इलाके में छापेमारी की जा रही है और सुरक्षाबल घटना से जुड़े सबूत खोजने में लगे हैं। आसपास के घरों और दूसरी संभावित जगहों पर संदिग्धों की तलाश की जा रही है। वहीं, राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल ने भी सुरक्षाबलों और एजेंसियों के साथ बैठक ली है। हमले की जांच में शामिल होने के लिए राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड (एनएसजी) के विशेषज्ञों और राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) के जांचकर्ताओं की टीम शुक्रवार को जम्मू-कश्मीर रवाना हो गई।
पीएम बोले-आतंकियों को कीमत चुकानी पड़ेगी
पुलवामा हमले पर पीएम नरेंद्र मोदी ने भी कड़ी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा है कि आतंकियों ने बड़ी गलती कर दी है और इसकी कीमत उन्हें चुकानी पड़ेगी। पीएम की अध्यक्षता में शुक्रवार सुबह हुई अहम बैठक के बाद पाकिस्तान के खिलाफ पहला बड़ा कदम भी उठा लिया गया है। एक घंटे से ज्यादा समय तक सुरक्षा पर कैबिनेट कमिटी (CCS) की बैठक में पाकिस्तान को दिया गया मोस्ट फेवर्ड नेशन (MFN) का दर्जा वापस लेने का फैसला किया गया।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *