प्रदेश सरकार से मंडी शुल्क समाप्त किए जाने की मांग

मथुरा। नगर उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मण्डल रजि मथुरा की बैठक नगर अध्यक्ष रमेश चतुर्वेदी की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई। बैठक में मंडी शुल्क समाप्त किए जाने की मांग को लेकर मंडी व्यवसाइयों द्वारा मंडी बंद तथा प्रदर्शन का समर्थन करते हुए मंडी शुल्क तथा सैस समाप्त किए जाने की मांग प्रदेश सरकार से की गई।

नगर अध्यक्ष रमेश चतुर्वेदी ने केन्द्र सरकार द्वारा सम्पूर्ण देश से मंडी शुल्क समाप्त किए जाने का स्वागत करते हुए प्रदेश सरकार से भी मंडी परिसर में लगने वाले मंडी शुल्क तथा सैस को समाप्त किए जाने की मांग की।

नगर महामंत्री सुनील अग्रवाल ने कहा कि एक प्रदेश में दो प्रकार की कर प्रणाली को उचित नहीं ठहराया जा सकता । एक ओर प्रदेश सरकार ने किसानों द्वारा सीधे उद्योगों को फसल बेचने पर मंडी शुल्क समाप्त कर दी वहीं मंडी परिसर में शुल्क समाप्त नहीं किया गया है, इससे ‌मंडी के अंदर का व्यवसाय समाप्त हो जाएगा। इस प्रकार एक प्रदेश/जनपद में एक उत्पाद पर दो कर प्रणाली अनुचित है।

संयुक्त महामंत्री रामचंद्र खत्री ने सरकार के सामने सुझाव रखा कि मंडी परिसर के रखरखाव हेतु एक-दो रुपए प्रति बोरी शुल्क लगाकर अथवा दुकानों के किराए में वृद्धि की जा सकती है ।

वरिष्ठ उपाध्यक्ष जगदीश प्रसाद गुप्ता एवं वरिष्ठ मंत्री शशिभानु गर्ग ने कहा कि एक प्रदेश में दो कर प्रणाली लागू रहने से मंडी समिति के अन्दर का व्यापार हो जाएगा समाप्त।

मीडिया प्रतिनिधि किशोर इसरानी ने कहा कि नगर उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मण्डल रजि ने प्रदेश कमान के आह्वान पर पूरे प्रदेश में मंड़ी शुल्क समाप्त किए जाने हेतु हर जिले में प्रदेश सरकार के लिए ज्ञापन प्रशासन को सौंपे है।

बैठक में उपरोक्त के अतिरिक्त राकेश अग्रवाल, महावीर मित्तल, गुरमुख दास गंगवानी, मीनालाल अग्रवाल, राजनारायन गौड़, प्रेम शंकर अग्रवाल, विकास जिंदल, अखिल जिन्दल, मुकेश अग्रवाल, सचिन चतुर्वेदी, राजीव मित्तल, विवेक मित्तल, रामनरेश अग्रवाल आदि प्रमुख रूप से उपस्थित थे।

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *