उत्तराखंड के चमोली में जल प्रलय की स्थिति, 3 लोगों की मौत

चमोली। उत्तराखंड के चमोली में रात से हो रही बारिश के चलते जल प्रलय की स्थिति हो गई है। यहां बांजबगड़ गांव में आवासीय मकान के पास हुए भूस्खलन के चलते एक मां और उसकी 9 महीने की बच्ची समेत तीन लोगों की दबने से मौत हो गई। बता दें कि उत्तराखंड में बारिश से अब तक जान-माल का भारी नुकसान हो चुका है। बांजबगड़ में भूस्खलन के मलबे में आवासीय मकान के दबने से रूबेशी देवी (35) और नौ महीने की बच्ची की मौत हो गई। इसके अलावा एक अन्य युवती की भी मौत हो गई।
चुफलागाड़ के उफान पर आने से घाट बाजार में एक दुकान और दो गोशाला क्षतिग्रस्त हो गए हैं। यहां रेस्क्यू टीमें मौके पर पहुंच चुके बचाव अभियान शुरू कर चुकी हैं। इसके अलावा बदरीनाथ हाइवे क्षेत्रपाल को भी बंद कर दिया है।
उत्तराखंड के चमोली जिले में नदी की जलस्तर अचानक बढ़ जाने से एक मकान उसकी जद में आ गया। इसके बाद देखते ही देखते समूचा मकान जलधारा में समा गया। घटना से जुड़ा एक वीडियो भी सामने आया है। इसमें मकान के नदी में समा जाने के भयावह दृश्य को साफतौर पर देखा जा सकता है।
बादल फटने से तबाही
खबर के मुताबिक सोमवार को प्रदेश के चमोली जिले में बादल फटने से भारी तबाही देखने को मिली। जिले के विकास खंड घाट के लांखी गांव में नदी का जलस्तर अचानक बढ़ने से एक पूरा मकान उसकी चपेट में आ गया। थोड़ी ही देर में मकान भरभराकर गिरा और नदी की धारा में समा गया। हादसे की सूचना मिलते ही राज्य आपदा प्रबंधन विभाग सक्रिय हो गया है। बादल फटने से मलबे में 40 बकरियां और बैल भी दब गए। -एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *