दिल्ली की सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी कंगना के खिलाफ कोर्ट पहुंची

नई दिल्‍ली। बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत अपनी फिल्मों से ज्यादा खुद से जुड़े विवादों और बयानबाजी के लिए ज्यादा चर्चा में रहती हैं। किसान आंदोलन पर कंगना के विवादित ट्वीट और बयानबाजी उनका पीछा नहीं छोड़ रहे हैं। कई शिकायतें और एफआईआर होने के बाद दिल्ली की सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी कंगना के खिलाफ कोर्ट पहुंच गई है और किसान आंदोलन पर किए गए विवादित बयानों के लिए उनक पर एफआईआर की मांग की है।
पटियाला हाउस कोर्ट में दाखिल की है याचिका
दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंध कमेटी ने पटियाला हाउस कोर्ट में एक याचिका दाखिल करते हुए कंगना रनौत पर एफआईआर दर्ज किए जाने की मांग की है। याचिका में कहा गया है कि कंगना ने किसान आंदोलन पर टिप्पणी करते हुए किसानों को आतंकवादी तक कह दिया। याचिका में कहा गया है कि कंगना के इस विवादित बयान से किसानों खासकर सिख किसानों का अपमान हुआ है और उनकी छवि को नुकसान पहुंचा है।
मुकदमा दर्ज किए जाने की मांग
याचिका में मांग की गई है कि कोर्ट दिल्ली पुलिस को कंगना के खिलाफ धारा 156(3) के तहत मुकदमा दर्ज किए जाने का निर्देश दे। माना जा रहा है कि कोर्ट इस याचिका पर 10 मार्च को सुनवाई कर सकता है। बता दें कि किसान आंदोलन पर विवादित टिप्पणी करने के लिए बहुत से सिलेब्रिटीज और आम लोगों ने कंगना की खासी आलोचना की थी।
क्या कहा था कंगना ने?
कंगना ने कृषि कानूनों के खिलाफ आंदोलन कर रहे किसानों को आतंकवादी कह दिया था और आंदोलन में शामिल एक बुजुर्ग महिला पर बेहद आपत्तिजनक टिप्पणी की थी। कंगना ने बुजुर्ग महिला के बारे में अमर्यादित टिप्पणी करते हुए कहा था कि वह 100-100 रुपये में आंदोलन में शामिल होने के लिए उपलब्ध हैं। हालांकि कंगना ने अपने कई ट्वीट बाद में डिलीट कर दिए थे जबकि उनके कुछ आपत्तिजनक ट्वीट्स को ट्विटर ने ही डिलीट कर दिया था।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *