दिल्ली: बारिश ने तोड़ा 18 साल का रिकॉर्ड, IGI एअरपोर्ट बना तालाब

नई द‍िल्‍ली। दिल्ली में एक तरफ बारिश ने 18 साल का रिकॉर्ड तोड़ दिया तो दूसरी तरफ 46 साल में सबसे ज्यादा बारिश का रिकॉर्ड भी बना लिया। यहां 1 जून से मानसून शुरू होता है। बरसात के पूरे सीजन में औसतन 649.8 मिमी बारिश होती है। 1 जून से 10 सितंबर तक औसतन 586.4 मिमी बारिश होती है। इस बार यह आंकड़ा 10 सितंबर को 1005.3 पर पहुंच गया।

दिल्ली-एनसीआर में रुक-रुक कर हो रही बारिश से लोगों को उमस भरी गर्मी से राहत तो मिली है, लेकिन जलभराव ने बुरा हाल कर दिया है। शुक्रवार देर रात से कभी तेज तो कभी मध्यम स्तर की बारिश के चलते पालम स्थित इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा भी बुरी तरह प्रभावित हुआ है। शनिवार सुबह 9 बजे के आसपास दिल्ली एयरपोर्ट के टी-3 टर्मिनल जलभराव से वहां पर तालाब जैसा नजारा हो गया। वहीं, दूसरी ओर दिल्ली एयरपोर्ट के रनवे पर भी बारिश का पानी भर गया। यह अलग बात है कि दिल्ली एयरपोर्ट ने कुछ देर बाद वीडियो जारी कर सबकुछ सामान्य होने का दावा किया है। एयरपोर्ट द्वारा जारी इस वीडियो में दिखाई दे रहा है कि वहां पर स्थिति सामान्य है और जलभराव की स्थिति दूर हो गई है।

दिल्ली एयरपोर्ट पर रनवे के पास पानी भरने से वहां की स्थिति तालाब जैसी हो गई, जबकि एयरपोर्ट के भीतर भी पानी भरने वहां का नजारा भी कुछ ऐसा ही था। कहा जा रहा है कि दिल्ली एयरपोर्ट के टर्मिनल-3 के भीतर तक पानी भर गया। इसके चलते एयरपोर्ट में प्रवेश कर रहे यात्रियों को जलभराव के बीच किसी तरह पानी से बचते बचाते जाते देखा गया।

गाजियाबाद के इंदिरापुरम में स्थित शिप्रा सृष्टि सोसाइटी के पास सड़क धंस गई। सड़क धंसने से काफी बड़ा गड्ढा हो गया। इसकी जानकारी मिलते ही पुलिस ने बैरिकेड लगाकर सड़क को यातायात के लिए बंद कर दिया है।

डायवर्ट की गई कई उड़ानें

इससे पहले सूचना मिली थी कि दिल्ली एयरपोर्ट परिसर में पानी भर गया है। रने-वे पर भी पानी भरा हुआ है, जिसके चलते कई फ्लाइट रद्द कर दी गई हैं। इस बाबत दिल्ली एयरपोर्ट की ओर से बयान जारी किया है। इसमें कहा गया है कि असुविधा के लिए खेद है। अचानक हुई भारी बारिश के कारण कुछ देर के लिए परिसर में जलभराव हो गया। फिलहाल समस्या दूर हो गई है। वहीं, राष्ट्रीय राजधानी में भारी बारिश के कारण चार घरेलू उड़ानें और एक अंतरराष्ट्रीय उड़ान दिल्ली से जयपुर और अहमदाबाद के लिए डायवर्ट की गई है।
– एजेंसी

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *