दिल्‍ली सरकार के पूर्व मंत्री Somnath Bharti पर आरोप तय, चलेगा ट्रायल

नई दिल्‍ली। खिड़की एक्‍सटेंशन में छापेमारी मामले में दिल्‍ली सरकार के पूर्व मंत्री Somnath Bharti के खिलाफ पटियाला हाउस कोर्ट ने आरोप तय कर दिए हैं। अब सोमनाथ भारती अौर अन्‍य 16 लोगों के खिलाफ कोर्ट में ट्रायल शुरू होगा।

2014 में सोमनाथ भारती को शिकायत मिली थी कि अफ्रीकन महिलाए ड्रग्स और प्रॉस्टिट्यूशन का रैकेट चलाती हैं। इसके बाद खिड़की एक्सटेंशन पहुंचकर सोमनाथ भारती ने उन महिलाओं के घर पर छापा मारा था।

कोर्ट ने भारती के उस दावे को खारिज कर दिया जिसमें उन्होंने कहा था कि इस मामले में पुलिस ने सही से जांच नहीं की। कोर्ट ने भारती समेत कई आरोपियों पर छेड़छाड़, धमकी जैसे कई मामले दर्ज किए हैं। इनमें से कई आरोपियों पर महिलाओं के खिलाफ किए गए अपराध का मामला है जोकि गैर-जमानती है।

एडिशनल मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट समर विशाल ने अपने आदेश में कहा कि मुझे समझ नहीं आ रहा कि भारती को किस तरह की ऑफिशियल ड्यूटी ने रात के एक बजे विदेशी महिलाओं पर हमला करने के लिए कहा।

बता दें कि भारती समेत 16 लोगों के खिलाफ इस मामले में केस दर्ज किया गया है। गौरतलब है कि मालवीय नगर के विधायक अपने समर्थकों के साथ कथित तौर पर खिड़की एक्सटेंशन में युगांडा मूल के 9 लोगों के घर में घुस गए थे।

कोर्ट ने भारती और उनके सहयोगियों के खिलाफ धारा 147/149, 354, 354C, 342, 506, 143, 509, 153A, 323, 452, 427 और 186 के तहत आरोप तय करने का आदेश दिया है।

अपने आदेश में मजिस्ट्रेट ने यह भी कहा कि इस बात के पर्याप्त सबूत हैं कि महिलाओं को पीटा गया. कुछ महिलाओं ने यह भी आरोप लगाया कि उनके साथ छेड़छाड़ की गई, उन्हें भीड़ के सामने ही पेशाब करने के लिए मजबूर किया गया।

वहीं अपनी सफाई में भारती ने कहा कि उन्हें शिकायत मिली थी कि युगांडा के नागरिक उस इलाके में ड्रग्स और वेश्यावृत्ति का व्यापार कर रहे हैं. हालांकि पुलिस जांच में सामने आया कि उस रात इलाके से कोई ड्रग्स नहीं मिला।

बता दें कि 2014 में आधी रात में सोमनाथ्‍ा भारती ने खिड़की एक्‍सटेंशन में रेड की थी। सोमनाथ भारती को शिकायत मिली थी कि अफ्रीकन महिलाए ड्रग्स और प्रॉस्टिट्यूशन का रैकेट चलाती हैं।

इसके बाद खिड़की एक्सटेंशन पहुंचकर सोमनाथ भारती ने उन महिलाओं के घर पर छापा मारा था, हालांकि महिलाओं ने Somnath Bharti समेत अन्‍य लोगों के खिलाफ छेड़छाड़ और बदसलूकी की शिकायत दर्ज कराई थी। इसके बाद मामला कोर्ट में पहुंचा था।

-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »