रक्षा मंत्री अस्‍पताल पहुंची Tharoor को देखने, थरूर ने तारीफ की

तिरुवनंतपुरम। केरल की राजधानी तिरुवनंतपुरम के एक अस्पताल में भर्ती शशि Tharoor को देखने जब निर्मला सीतारमण पहुंचीं तो लगा कि राजनीति में शिष्टाचार कितना अहम है। लोकसभा चुनाव में नेताओं के बीच वार और पलटवार की जुबानी जंग जारी है। बेतुके और आपत्तिजनक बयान देने की मानो होड़ सी लगी है। इन सबके बीच सियासत के गलियारे से दिल को सुकून देने वाली एक तस्वीर सामने आई है। राजनीति में शिष्टता को दर्शाती यह तस्वीर आईना है उन नेताओं के लिए जो सियासी संघर्ष में बहुत कुछ ताक पर रख देते हैं।
पूर्व केंद्रीय मंत्री और तिरुवनंतपुरम से कांग्रेस सांसद Tharoor सोमवार को एक मंदिर में दर्शन के दौरान घायल हो गए थे। सिर में चोट की वजह से उन्हें कई टांके भी लगाने पड़े। रक्षा मंत्री और बीजेपी नेता निर्मला सीतारमण ने अस्पताल पहुंचकर Tharoor का हाल जाना। इसके बाद थरूर ने इस मुलाकात की तस्वीर शेयर करते हुए सीतारमण की तारीफ की।
थरूर ने ट्वीट में लिखा, ‘निर्मला सीतारमण का यहां आना दिल को छू गया। केरल में अपने व्यस्त चुनावी कार्यक्रम के बीच आज सुबह अस्पताल पहुंचकर उन्होंने मेरा हाल जाना। भारतीय राजनीति में शिष्टाचार एक दुर्लभ गुण है। उन्हें इसका बेहतरीन उदाहरण पेश करते देखकर बहुत अच्छा लगा।’
दरअसल, शशि थरूर सोमवार को तिरुवनंतपुरम के एक मंदिर में पूजा-अर्चना के लिए पहुंचे थे और इसी दौरान उन्हें चोट लग गई। हालांकि गनीमत यह रही कि थरूर को कोई गंभीर चोट नहीं आई। अपने प्रचार अभियान से पहले थरूर एक मंदिर में दर्शन के लिए पहुंचे थे। इसी दौरान अचानक वह गिर पड़े और उनको सिर में चोट आई। थरूर को फौरन इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया। प्राथमिक इलाज के बाद थरूर के सिर में 11 टांके लगाए गए।
बता दें कि कांग्रेस ने थरूर को एक बार फिर तिरुवनंतपुरम सीट से लोकसभा चुनाव में उतारा है। इस सीट से दो बार कांग्रेस के सांसद चुने गए थरूर का मुकाबला बीजेपी नेता और मिजोरम के पूर्व राज्यपाल कुम्मानेम राजशेखरन और सीपीआई विधायक सी दिवाकरन से है। थरूर इस सीट से पहली बार 2009 में चुनाव लड़े थे। उस बार उन्हें एक लाख से तीन मत कम मिले थे, लेकिन 2014 में वह लगभग 15,000 मतों के अंतर से जीते।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »