लेह में किसान-जवान-विज्ञान मेले का उद्घाटन कर रक्षामंत्री ने कहा, कश्‍मीर पर रोना छोड़ दे पाकिस्‍तान

करगिल/लेह। केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने गुरुवार को लेह में 26वें किसान-जवान-विज्ञान मेले का उद्घाटन किया। अनुच्छेद 370 का अंत होने के बाद केंद्र शासित प्रदेश बने लद्दाख में अपने पहले दौरे पर पहुंचे राजनाथ सिंह ने यहां तमाम स्थानीय लोगों से मुलाकात की। वहीं कार्यक्रम के दौरान राजनाथ ने पाकिस्तान को नसीहत देते हुए पूछा कि पाक यह बताए कि कश्मीर उसका कब था, जो वह इसके लिए रोता रहता है?
लेह में 26वें किसान-जवान-विज्ञान मेले का उद्घाटन करने के बाद अपने संबोधन में राजनाथ सिंह ने कहा, ‘मैं पाकिस्तान से पूछना चाहता हूं कि कश्मीर कब पाकिस्तान का था जो तुम उसको लेकर रोते रहते हो?
पाकिस्तान बन गया तो हम आपके वजूद का सम्मान करते हैं लेकिन कश्मीर के मुद्दे पर पाकिस्तान का कोई स्थान नहीं है।’
‘कश्मीर हमारा रहा है, इसमें कोई शक नहीं’
राजनाथ ने आगे कहा, ‘कश्मीर हमारा रहा है इस बात पर इस देश में कभी कोई शक नही रहा है। सच्चाई यह है कि POK और गिलगिट-बाल्टिस्तान पर पाकिस्तान ने अवैध कब्जा जमाया हुआ है और पाकिस्तान को PoK के नागरिकों के मानवाधिकारों के हनन पर ध्यान देना चाहिए।’ राजनाथ सिंह का यह बयान उस वक्त आया है जबकि हाल ही में पाकिस्तानी पीएम इमरान खान कश्मीर घाटी के हालातों को लेकर कई बयान दे चुके हैं।
इसके अलावा पाकिस्तान ने संयुक्त राष्ट्र संघ को कश्मीर के हालातों पर एक चिट्ठी भी लिखी है।
इमरान खान के बयानों पर पलटवार
बता दें कि हाल ही में पाकिस्तान को कड़े शब्दों में संदेश देते हुए कहा था कि पाकिस्तान से बात तभी होगी जब वह अपनी धरती से संचालित आतंकवाद को खत्म करेगा। अगर ऐसा नहीं है तो फिर पाकिस्तान से बात करने का कोई कारण नहीं है। राजनाथ ने कहा था कि पाकिस्तान से आगे भी जो बातचीत होगी, अब वह पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर पर बात होगी।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »