Defense Expo: 23 एमओयू पर बात, यूपी में होगा 50 हजार करोड़ रुपए का निवेश

लखनऊ। Defense Expo में उत्तर प्रदेश सरकार की तरफ से अलग-अलग कम्पनियों से 23 एमओयू पर हस्ताक्षर किए जाने की योजना पर काम शुरू हो गया है। Defense Expo के बाद 50 हजार करोड़ रुपए के निवेश की राह खुलेगी। सरकार की योजना सफल हुई तो 3 लाख से अधिक नौकरियों के सृजित होंगी। वहीं, पूर्वी अफ्रीकी देश मेडागास्कर और भारत के रक्षामंत्रियों की बैठक में समुद्री सुरक्षा का खाका खींचा गया।

यूपी के बुंदेलखंड में बनना है डिफेंस कॉरिडोर

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ यूपी के बुंदेलखंड में डिफेंस कॉरिडोर बनाने के लिए काम कर रहे हैं। यूपी इन्वेस्टर्स समिट के दौरान पीएम मोदी ने डिफेंस इंडस्ट्रियल कॉरिडोर स्थापित करने की घोषणा की थी। इस कॉरिडोर में हथियार और रक्षा उपकरणों के कारखाने स्थापित किए जाएंगे। इससे करीब 2.5 लाख लोगों को रोजगार मिलने की उम्मीद है। पहले चरण में बुंदेलखंड के चित्रकूट, जालौन, झांसी और अलीगढ़ में कॉरिडोर का काम शुरू किया जाएगा। यह कॉरिडोर भारत सरकार के मेक इन इंडिया प्रॉजेक्ट के तहत बनाया जाएगा। यहां ड्रोन, वायुयान और हेलीकॉप्टर असेंबलिंग सेंटर, डिफेंस पार्क, बुलेट प्रूफ जैकेट, रक्षा के क्षेत्र में आर्टिफिशल इंटेलीजेंस को बढ़ावा देने के उपकरण, ऑर्डिनेंस फैक्ट्री, डिफेंस इनोवेटिव हब आदि होंगे।

दोनों देशों के रक्षामंत्रियों की हुई बातचीत

मेडागास्कर के रक्षामंत्री लेफ्टिनेंट जनरल रोकोटोनिरीना रिचर्ड ने कहा कि भारतीय महासागर के समुद्री क्षेत्र में सुरक्षा को बढ़ाने में भारत की बड़ी भूमिका है। भारत के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि क्षेत्र में समुद्री सुरक्षा सहयोग में संबंधों को बढ़ाने पर जोर दिया। कहा, ”समुद्री पड़ोसियों के रूप में दोनों देशों की जिम्मेदारी है। वे सुरक्षित समुद्री वातावरण सुनिश्चित करें ताकि व्यापार और वाणिज्य का विकास हो सके। मार्च 2018 में मेडागास्कर में भारत के राष्ट्रपति की राजकीय यात्रा को रेखांकित करते हुए राजनाथ सिंह ने कहा कि ऐतिहासिक यात्रा से दोनों देशों के बीच उत्कृष्ट द्विपक्षीय संबंधों में और मजबूती आई।”

दोनों देशों के बीच हुआ एमओयू संबंधेां को और मजबूती प्रदान करेगा- राजनाथ
उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि यात्रा के दौरान हस्ताक्षरित समझौता ज्ञापन (एमओयू) से दोनों देशों को रक्षा सहयोग के लिए समर्थकारी ढांचा मिला। रक्षामंत्री ने कहा कि डिफेंस एकस्पो 2020 दोनों देशों के संबंधों को और मजबूत करने और आपसी व्यवसाय के विभिन्न क्षेत्रों का अन्वेषण करने के लिए एक मंच प्रदान करेगा।

मेडागास्कर के रक्षामंत्री लेफ्टिनेंट जनरल रोकोटोनिरीना रिचर्ड ने कहा कि भारतीय महासागर के समुद्री क्षेत्र में सुरक्षा को बढ़ाने में भारत की बड़ी भूमिका है। उन्होंने ‘ऑपरेशन वेनिला’के लिए अपनी सरकार की ओर से आभार व्यक्त किया, जिसमें भारतीय नौसेना ने साइक्लोन डयाने की वजह से मेडागास्कर के बाद की तबाही से प्रभावित आबादी को सहायता प्रदान की।

मरीन कमांडो फोर्स ने दिखाई अपनी ताकत

दुनिया के घातक कमांडो में शामिल भारतीय नौसेना के मार्कोस (मरीन कमांडो फोर्स) ने लखनऊ में पहली बार अपनी प्रस्तुति दी। गुरुवार को डिफेंस एक्सपो में वाटर स्कूटर, खास ड्रेस व हाईटेक हथियारों से लैस इन कमांडो ने समुद्री लुटेरों से निपटने और आतंकी हमले को नाकाम करने का अपना हुनर दिखाया। गोमती रिवर फ्रंट के ऊपर मार्कोस कमांडो भारतीय सेना के हेलीकॉप्टर से नीचे उतरे और आतंकी हमले को नाकाम करने का डेमो दिखाया।

– एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *