कोरोना से मरने वालों की दर भारत में सबसे कम: स्वास्थ्य मंत्रालय

नई दिल्‍ली। दुनिया में जहां इस वक्त कोरोना वायरस के चलते औसतन प्रति एक लाख लोगों में 6.04 लोगों की मौत हो रही है वहीं भारत में प्रति एक लाख की आबादी पर महज एक मौत हो रही है, जो कि पूरी दुनिया में सबसे कम है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने मंगलवार को यह जानकारी दी। मंत्रालय ने इसके लिए मामलों की समय पर पहचान, संपर्क ट्रेसिंग और प्रभावी चिकित्सकीय प्रबंधन को श्रेय दिया।

भारत में अभी तक इस वैश्विक महामारी के चलते 14,011 लोगों की मौत हो चुकी है। सोमवार सुबह आठ बजे से मंगलवार की सुबह आठ बजे तक देश में 312 लोगों की मौत हुई। वहीं इस दौरान इस जानलेवा महामारी के 14,933 नए मामले सामने आए हैं। इस तरह से देश में अब कोविड-19 के कुल मामलों की संख्या चार लाख 40 हजार 215 हो गई है।
22 जून को जारी हुई डब्ल्यूएचओ (विश्व स्वास्थ्य संगठन) की रिपोर्ट के हवाले से स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि ब्रिटेन में कोरोना वायरस के चलते प्रति एक लाख की आबादी पर मौत का आंकड़ा 63.13 है। वहीं, स्पेन में यह 60.60, इटली में 57.19, अमेरिका में 36.30, जर्मनी में 27.32, ब्राजील में 23.68 और रूस में 5.62 है।
मंत्रालय ने एक बयान में कहा, ‘भारत में मामलों की समय से पहचान, समय से जांच व निगरानी, प्रभावी चिकित्सकीय प्रबंधन के साथ गंभीर संपर्क ट्रेसिंग ने मृत्यु दर को कम रखने में मदद की।’ बयान में कहा गया कि यह कोविड-19 की रोकथाम और प्रबंधन के लिए केंद्र, राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के साथ सक्रिय दृष्टिकोण और मेहनत का भी प्रमाण है।

मंत्रालय ने कहा कि कोरोना से ठीक होने की दर यानी रिकवरी रेट में भी सुधार आया है। फिलहाल देश में कोरोना का रिकवरी रेट 56.38 फीसदी है। अभी तक देश में कोरोना संक्रमित दो लाख 48 हजार 189 मरीज ठीक हो चुके हैं। अब देश में कोरोना के एक लाख 78 हजार 14 सक्रिय मामले हैं। मंत्रालय ने बताया कि पिछले 24 घंटे में 10,994 मरीज ठीक हुए हैं।

-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *