दसॉल्ट के सीईओ Eric Trappier बोले, राफेल में कोई घोटाला नहीं हुआ

बेंगलुरू। दसॉल्ट एविएशन के सीईओ Eric Trappier ने कहा कि राफेल में कोई घोटाला नहीं हुआ है। उन्होंने कहा है कि 36 विमानों की डील हुई थी और हम इसे देने जा रहे हैं। अगर भारत की सरकार को और एयरक्राफ्ट चाहए तो हम उन्हें डिलिवर करेंगे।

गौरतलब है कि भारत में राफेल (Rafale)विमान की कीमत को लेकर राजनीतिक दल एक दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप लगा रहे है।

राफेल लड़ाकू विमान सौदे को लेकर नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक की रिपोर्ट में कहा गया है कि यह सौदा पूर्ववर्ती संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (UPA) सरकार के समय किए गए सौदे से कुल मिलाकर 2.86 फीसदी सस्ता है। हालांकि इस रिपोर्ट में राफेल की कीमत का खुलासा नहीं किया गया था।

सीएजी ने लगभग डेढ़ साल में यह रिपोर्ट तैयार की थी और रिपोर्ट में विमानों के नये या पुराने सौदे की कीमतों का जिक्र नहीं किया गया था। इसके लिए फ्रांस सरकार के साथ भारत सरकार के गोपनीयता के समझौते का हवाला दिया गया है।

सीईओ Eric Trappier एएनआई को दिए एक इंटरव्यू में कहा था कि हमने खुद अंबानी को चुना

आपको बता दें कि दसॉल्ट के सीईओ Eric Trappier एएनआई को दिए एक इंटरव्यू में कहा था कि हमने खुद अंबानी को चुना। हमारे रिलायंस के अलावा 30 अन्य पार्टनर्स भी हैं। इस सौदे का भारतीय वायुसेना इसलिए समर्थन कर रही है क्योंकि उन्हें खुद की रक्षा के लिए फाइटर्स जेट्स की आवश्यकता है।

राफेल के कीमत को लेकर सीईओ ने कहा था कि वर्तमान विमान 9% सस्ते हैं। 36 विमानों की कीमत उतनी ही है जितनी 18 विमानों की थी। 18 से 36 दोगुना है। ऐसे में यह कीमत दोगुनी हो जानी चाहिए थी लेकिन यह सरकार से सरकार के बीच का सौदा है तो हमें 9 फीसदी तक कीमतें कम करनी पड़ी।
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »