यूपी के 27 जिलों में भी देखने को मिल सकता है चक्रवाती तूफान यास प्रभाव

लखनऊ। बंगाल की खाड़ी में सक्रिय हुए चक्रवाती तूफान यास के प्रभाव से यूपी के मौसम में भी बदलाव देखने को मिल सकता है। इस साइक्लोन के कारण प्रदेश के 27 जिलों में 24 से 28 मई के बीच भारी बारिश की आशंका जताई गई है। प्रशासन को इस संबंध में अडवाइजरी जारी करते हुए सरकार ने अलर्ट रहने एवं जरूरी इंतजाम करने को कहा है।
राजधानी समेत प्रदेश के मौसम में फिर से बदलाव देखने को मिल सकता है। मौसम विभाग के अनुसार बुधवार से पूर्वी यूपी के कुछ जिलों में चमक गरज के साथ बारिश हो सकती है।
लखनऊ शहर में गुरुवार से मौसम बदल सकता है। लखनऊ के अलावा प्रदेश के मुरादाबाद, अमरोहा, बिजनौर, संभल, बदायूं, कासगंज, बहराइच, गोंडा, बाराबंकी, बलरामपुर, श्रावस्ती, सिद्धार्थनगर, बस्ती, अयोध्या, सुलतानपुर, अमेठी, आंबेडकरनगर, मऊ, गाजीपुर, बलिया, देवरिया, संत कबीर नगर, महाराजगंज और जौनपुर जिले में भी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है।
मानसून के लिए बन सकती है अनुकूल परीस्थिति
अमौसी स्थित आंचलिक मौसम विभाग के निदेशक जेपी गुप्ता के अनुसार बंगाल की खाड़ी में बने यास चक्रवात का प्रभाव प्रदेश में भी दिखाई पड़ेगा‌। इससे बारिश और तेज हवाएं चलने का भी अनुमान है। मौसम विभाग ने उम्मीद जताई है कि इससे मॉनसून के लिए अनुकूल परिस्थितियां बन सकती हैं।
‘यास’ की तैयारियों की शाह ने की समीक्षा
इससे पहले केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने सोमवार को चक्रवाती तूफान से निपटने के लिए ओडिशा, आंध्र प्रदेश और पश्चिम बंगाल के मुख्यमंत्रियों के साथ तैयारियों का जायजा लिया। शाह ने विडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए बैठक की और अंडमान और निकोबार द्वीप समूह के उपराज्यपाल से भी बातचीत की। भारत के तटीय हिस्से में यास के कारण ज्यादा बारिश की संभावना है, जिसे देखते हुए राहत टीमों को ऐसे राज्यों में भेजा जा रहा है।
बंगाल रवाना हुई एनडीआरएफ की 5 टीमें
एनडीआरएफ की नौवीं बटालियन की पांच टीमें पश्चिम बंगाल के लिए रवाना हो गई हैं। टीमों को पश्चिम बंगाल के कोलकाता, उत्तर 24 परगना और दक्षिण 24 परगना में तैनात किया जाएगा। टीमों में कुल 145 एनडीआरएफ कर्मी शामिल हैं। उन्होंने कहा कि चक्रवात यास को लेकर आंध्र प्रदेश, ओडिशा, तमिलनाडु, पश्चिम बंगाल तथा अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है। वायुसेना ने मानवीय सहायता और आपदा राहत कार्यों को अंजाम देने के लिए 11 परिवहन विमान और 25 हेलीकॉप्टर तैयार रखे हैं।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *