कल आने वाला है चक्रवाती तूफान Amphan, 17 NDRF टीम तैनात

नई द‍िल्ली। बंगाल की खाड़ी में कल सुबह गंभीर चक्रवाती तूफान में तब्दील हो जाएगा Amphan। चक्रवाती तूफान ‘Amphan’ के अगले 12 घंटों के दौरान एक गंभीर चक्रवाती तूफान में तब्दील होने की संभावना है। साथ ही इसके सोमवार सुबह तक अत्यधिक गंभीर तूफान वाली श्रेणी में आने की संभावना है। भारतीय मौसम विभाग (आईएमडी) ने इस बात की जानकारी दी है।

दक्षिण-पूर्व बंगाल की खाड़ी में आए तूफान अम्फान पिछले छह घंटे से उत्तर-उत्तर पश्चिम की तरफ बढ़ रहा है। रविवार सुबह 5.30 बजे इसमें तेजी दर्ज की गई। यह ओडिशा के दक्षिण पारादीप से 990 किमी, पश्चिम बंगाल के दक्षिण-दक्षिण पश्चिम दीघा से 1140 किमी और बांग्लादेश के दक्षिण- दक्षिण पश्चिम से 1260 किमी दूर है।

इसके अगले 24 घंटों के दौरान लगभग उत्तर की ओर बढ़ने की संभावना है। फिर यह तूफान उत्तर-पश्चिम बंगाल की खाड़ी में उत्तर-पूर्व की ओर मुड़ेगा। इसके बाद इस तूफान के पश्चिम बंगाल में सागर द्वीप समूह और बांग्लादेश के हतिया द्वीप समूह के बीच 20 मई की दोपहर या शाम को एक बहुत गंभीर चक्रवाती तूफान में बदलने की संभावना है।

राष्ट्रीय संकट प्रबंधन समिति (एनसीएमसी) ने शनिवार को चक्रवात की तैयारियों की समीक्षा की और पश्चिम बंगाल और ओडिशा को तत्काल सहायता का निर्देश दिया। चक्रवात की तैयारियों का जायजा लेने के लिए कैबिनेट सचिव राजीव गौबा की अध्यक्षता में एनसीएमसी की बैठक हुई।

चक्रवाती तूफान के लिए ओडिशा तैयार, सीएम ने कहा- नहीं होने देंगे जनहानि
बंगाल की खाड़ी में बने चक्रवात के कारण उठने वाले तूफान ‘अम-पुन’ के लिए ओडिशा तैयार है। राज्य सरकार ने लोगों को आश्वस्त किया कि वह किसी तरह की जनहानि होने नहीं देंगे। इसके लिए सरकार पूरी तरह से तैयार है।  मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने तूफान से राज्य में एक भी व्यक्ति की मौत नहीं होने देने को सुनिश्चित करने का लक्ष्य निर्धारित किया।

चक्रवाती तूफान की गति और क्षमता को देखते हुए राज्य सरकार ने केंद्र सरकार से अनुरोध किया कि वह ‘अम-पुन’ के रास्ते से होकर गुजरने वाली सभी श्रमिक स्पेशल ट्रेनों को अस्थाई रूप से स्थगित कर दे। पटनायक ने चक्रवात को लेकर राज्य की तैयारियों का जायजा लिया। मौसम विभाग के अनुसार, यह तूफान 17 से 20 मई तक राज्य में रहेगा।

– एजेंसी

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *