यूपी के हर जोनल मुख्यालय में खुलेगा साइबर थाना

लखनऊ। साइबर क्राइम की लगातार आ रही सूचनाओं के बीच प्रदेश पुलिस ने इन अपराधियों से लड़ने की विशेष तैयारी की है। डीजीपी ओपी सिंह ने बताया कि साइबर क्राइम से निपटने के लिए हर जोनल मुख्यालय में साइबर थाना खुलेगा। फिलहाल लखनऊ और नोएडा में थाने खुले हैं। कानपुर, आगरा, वाराणसी, प्रयागराज, गोरखपुर और बरेली जोन में जल्द ही थाने खुलेंगे। इसके लिए शासन को प्रस्ताव भेज दिया गया है। इन थानों में आने वाले सभी साइबर क्राइम के मामलों की मॉनिटरिंग आईजी साइबर क्राइम द्वारा की जाएगी। वर्तमान में प्रदेश भर में 4000 से ज्यादा साइबर क्राइम के मामले अटके पड़े हैं।
एसटीएफ की तरह बनेगी साइबर क्राइम की अलग विंग
प्रदेश स्तर पर साइबर क्राइम से निपटने के लिए एसटीएफ की तरह एक अलग विंग बनाई जाएगी। फिलहाल आईजी साइबर क्राइम, एसपी साइबर क्राइम और उनकी टीम एसटीएफ मुख्यालय में बैठेगी। बाद में उनके लिए नए पुलिस मुख्यालय में अलग दफ्तर दिया जाएगा। डीजीपी ने बताया कि आईजी साइबर क्राइम पुलिसकर्मियों के साइबर क्राइम से निपटने के बेहतर प्रशिक्षण की कार्ययोजना भी तैयार करेंगे। इसके लिए नेशनल पुलिस अकादमी, सीबीआई व अन्य विशेषज्ञ एजेंसियों की भी मदद ली जाएगी।
जानकारी के मुताबिक केंद्रीय गृह मंत्रालय ने साइबर अपराध से निपटने के लिए करीब एक वर्ष पहले सभी राज्यों को स्टेट साइबर क्राइम कोऑर्डिनेशन सेल का गठन करने के निर्देश दिए थे। इसमें एडीजी व आईजी स्तर के अधिकारी को प्रभारी बनाने को कहा गया था। इस सेल को साइबर क्राइम की रोकथाम के साथ ही पुलिस अधिकारियों को साइबर क्राइम की पड़ताल के लिए प्रशिक्षित करने और दूसरे राज्यों व केंद्रीय एजेंसियों से कोऑर्डिनेशन करने का काम सौंपा जाना था। इसके तहत ही यूपी में आईजी साइबर क्राइम की तैनाती की गई है।
12 आईपीएस व 26 एडिशनल एसपी के तबादले
सरकार ने हाल ही में पीपीएस से आईपीएस के पद पर प्रमोशन पाने वाली सुधा सिंह को चतुर्थ वाहिनी पीएसी प्रयागराज का, राजेश कुमार सिंह को 44वीं वाहिनी पीएसी मेरठ का, ओम प्रकाश सिंह को 26वीं वाहिनी पीएसी गोरखपुर का, रामबदन सिंह को 36वीं वाहिनी पीएसी वाराणसी का, अष्टभुजा प्रसाद सिंह को 12वीं वाहिनी पीएसी फतेहपुर का, सुभाष चंद्र शाक्य को 39वीं वाहिनी पीएसी मिर्जापुर का, अशोक कुमार राय को 48वीं वाहिनी पीएसी सोनभद्र का सेनानायक बनाया गया है। नोएडा एसपी ग्रामीण के पद पर तैनात वर्ष 2014 बैच के आईपीएस विनीत जायसवाल को एसपी सिटी नोएडा बनाया गया है। नोएडा में तैनात डॉ. कौस्तुभ को एसपी सिटी गोरखपुर, गाजियाबाद में तैनात अपर्णा गौतम को एएसपी शाहजहांपुर बनाया गया है। मथुरा में एएसपी क्राइम के पद पर तैनात वर्ष 2015 बैच के आईपीएस अशोक कुमार मीणा को एसपी सिटी मथुरा बनाया गया है।
एडीजी एलओ के स्टाफ अफसर हटे
इसके अलावा 26 एडिशनल एसपी का शुक्रवार को तबादला कर दिया है। एटीएस में तैनात दिनेश पुरी को लखनऊ का एएसपी क्राइम बनाया गया है। एडीजी एलओ के स्टाफ अफसर राजेश कुमार सिंह की 32वीं वाहिनी पीएसी लखनऊ में उप सेनानायक के पद पर तैनाती की गई है।
वर्ष 2018 में एससी एसटी को लेकर हुई हिंसा के बाद सशर्त इस्तीफा देने वाले एएसपी भीम प्रिय अशोक को मेरठ एसपी क्राइम के पद से हटाकर प्रशिक्षण निदेशालय भेजा गया है।
लखनऊ में सचिवालय सुरक्षा के पद पर तैनात सर्वेश कुमार मिश्र को एएसपी हापुड़, कुमार रणविजय सिंह को एएसपी ग्रामीण नोएडा, राजेश कुमार श्रीवास्तव को एएसपी सचिवालय सुरक्षा, अजय कुमार सिंह को एएसपी यूपीपीसीएल मेरठ, अजय प्रताप सिंह को एएसपी अमरोहा, ओमवीर सिंह को एएसपी ग्रामीण इटावा, रविंद्र कुमार वर्मा को एएसपी भदोही, राममोहन सिंह को उप सेनानायक 49वीं वाहिनी पीएसी गौतमबुद्ध नगर, आलोक कुमार जायसवाल को एएसपी संभल, अनिल कुमार सिंह को एएसपी बागपत, पंकज कुमार पांडेय को एएसपी सिटी आजमगढ़, घनश्याम को एएसपी सीबी सीआईडी मुख्यालय, विजय पाल सिंह को एएसपी सिटी अयोध्या, संजय कुमार को एएसपी बलिया, डॉ. संजय कुमार एएसपी पीटीसी सीतापुर, रामअर्ज को एएसपी क्राइम मेरठ, अवनीश कुमार मिश्र को एएसपी अंबेडकरनगर, सुरेंद्र प्रसाद द्विवेदी को एएसपी पूर्वी प्रतापगढ़, विनय कुमार सिंह को 43वीं वाहिनी पीएसी एटा में, राहुल कुमार को एएसपी क्राइम एटा, राधेश्याम राय को एएसपी क्राइम मथुरा, शैलेंद्र लाल को एएसपी खीरी और कमलेश बहादुर को आठवीं वाहिनी पीएसी बरेली का उपसेनानायक बनाया गया है।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *