क्रिकेट: ऐसा कारनामा, जो 114 साल बाद अश्‍विन ने कर दिखाया

चेन्नै। रविचंद्रन अश्विन ने इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज के पहले मुकाबले के चौथे दिन एक खास करिश्मा किया। उन्होंने चेन्नै टेस्ट की दूसरी पारी की पहली ही गेंद पर इंग्लैंड के सलामी बल्लेबाज का विकेट लिया। इसके साथ ही अश्विन ने इतिहास रच दिया। उन्होंने जो कारनामा किया है वह बीते 114 साल में नहीं हुआ। उन्होंने रोरी बर्न्स को स्लिप में अजिंक्य रहाणे के हाथों कैच करवाया।
अश्विन इसके साथ ही वह पारी की पहली गेंद पर विकेट लेने वाले गेंदबाज बन गए। टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में ऐसा 1907 के बाद पहली बार हुआ है। तब ओवल में खेले गए मुकाबले में साउथ अफ्रीका के स्पिनर बर्ट बोगलर ने इंग्लैंड के बल्लेबाज टॉम हेवर्ड को आउट किया था। सबसे पहले 1888 में इंग्लैंड के स्पिनर बॉबी पील ने ऑस्ट्रेलिया के एलेक बैनरमैन को पारी की पहली गेंद पर आउट किया था।
इससे पहले भारत ने ऋषभ पंत (91), वॉशिंगटन सुंदर (नाबाद 85) और चेतेश्वर पुजारा (73) के अर्धशतकों की बदौलत यहां एमए चिदम्बरम स्टेडियम में इंग्लैंड के साथ जारी पहले टेस्ट मैच के चौथे दिन सोमवार को अपनी पहली पारी में 337 रन का स्कोर बनाया। इंग्लैंड ने अपनी पहली पारी में 578 रन का विशाल स्कोर बनाया था।
भारत ने अपने तीसरे दिन (रविवार) के स्कोर छह विकेट पर 257 रन से आगे खेलना शुरू किया। सुंदर ने 33 और अश्विन ने अपनी पारी को आठ रन से आगे बढ़ाया। दोंनो बल्लेबाजों ने सातवें विकेट के लिए 80 रनों की महत्वपूर्ण साझेदारी कर भारत को संकट से बाहर निकालने की कोशिश की। अश्विन टीम के 305 के स्कोर पर सातवें बल्लेबाज के रूप में आउट हुए। उन्होंने 91 गेंदों पर तीन चौके और एक छक्के के सहारे 31 रन बनाए।
इसके बाद भारत ने 312 के स्कोर पर शाहबाज नदीम (0) के रूप में अपना आठवां, इशांत शर्मा (4) के रूप में अपना नौवां और जसप्रीत बुमराह (0) के रूप में अपना 10वां विकेट गंवाया। हालांकि अपने करियर का मात्र दूसरा टेस्ट खेल रहे सुंदर ने भारतीय पारी को एक छोर से संभाले रखा और अपने करियर का लगातार दूसरा अर्धशतक पूरा किया।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *