पश्चिम बंगाल में सीपीएम ने ठुकराया कांग्रेस का ऑफर

कोलकाता। पश्चिम बंगाल में कांग्रेस और सीपीएम के बीच लोकसभा सीटों के बंटवारे के मुद्दे पर अभी तक सहमति नहीं बन पाई है। ऐसे समय पर जब दोनों ही दलों ने वादा किया था कि वे तृणमूल कांग्रेस और बीजेपी के मात देने के लिए गठबंधन करेंगे, अब दोनों ही दल यह स्‍वीकार करने से बच रहे हैं कि यह अलायंस संकट में घिर गया है।
बुधवार को पूर्व प्रदेश कांग्रेस अध्‍यक्ष प्रदीप भट्टाचार्य ने सीपीएम को 5 नई सीटों का ऑफर दिया। उन्‍होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी आरामबाग, बिष्‍णुपुर, बोलपुर, तामलुक और आसनसोल में अपने प्रत्‍याशी नहीं उतारेगी। भट्टाचार्य ने कहा, ‘वाम मोर्चे के चेयरमैन का 24 घंटे डेडलाइन हमारे लिए आश्‍चर्यजनक है। यह एक व्हिप की तरह है जिसे मानने के लिए कांग्रेस मजबूर नहीं है।’
13 सीटों पर लेफ्ट ने उतारे प्रत्याशी
उन्‍होंने कहा, ‘हम सीपीएम को 5 नई सीटें ऑफर कर रहे हैं। हम उनसे जवाब की उम्‍मीद कर रहे हैं।’ उधर, सीपीएम ने कांग्रेस के इस ऑफर को खारिज कर दिया है। इससे पहले सीपीएम नीत वाम मोर्चा ने मंगलवार को पश्चिम बंगाल में लोकसभा की 13 और सीटों के लिए उम्मीदवारों की घोषणा कर दी थी। वाम मोर्चा राज्य के लिए अब तक 38 उम्मीदवारों के नाम का ऐलान कर चुका है।
हालांकि, सीपीएम ने कांग्रेस के साथ सीट बंटवारे के लिए बातचीत का रास्ता खुला रखते हुए कहा कि उसने शेष उन चार सीटों के लिए नामों का ऐलान नहीं किया है, जहां पर कांग्रेस ने 2014 में जीत हासिल की थी। मोर्चा के अध्यक्ष बिमान बोस ने कहा था कि गठबंधन के लिए कल शाम तक कांग्रेस की तरफ से कोई सकारात्मक जवाब आया तो 38 उम्मीदवारों की सूची में फेरबदल भी हो सकता है।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »