अदालत ने जारी किया हार्दिक पटेल के खिलाफ अरेस्‍ट वॉरंट

मेहसाणा। गुजरात के मेहसाणा जिले की एक स्थानीय अदालत ने राज्य के पाटीदार समुदाय के नेता हार्दिक पटेल के खिलाफ 2015 के एक मामले में अरेस्ट वॉरंट जारी किया है। गुजरात चुनाव से ऐन पहले जारी हुए इस वॉरंट के बाद अब इस पर राजनीति तेज होने की संभावना है। चुनाव आयोग ने बुधवार को ही राज्य में दो चरणों में चुनाव कराए जाने का ऐलान किया है।
जानकारी के अनुसार गुजरात के मेहसाणा की जिला अदालत ने 2015 में पाटीदार आंदोलन के दौरान बीजेपी विधायक ऋषिकेश पटेल के ऑफिस पर हुए हमले के मामले में हार्दिक पटेल और लालजी पटेल के खिलाफ गिरफ्तारी वॉरंट जारी किया है।
मेहसाणा के जिस विसनगर की अदालत ने हार्दिक के खिलाफ वॉरंट जारी किया है, वह साल 2015 में हुए पाटीदार अनामत (आरक्षण) आंदोलन का प्रमुख गढ़ रहा था। हार्दिक पटेल के नेतृत्व में हुए इसी आंदोलन के दौरान बीजेपी विधायक के दफ्तर को निशाना बनाया गया था।
इस बीच चुनाव आयोग ने गुजरात में 9 और 14 दिसंबर को दो चरणों में मतदान कराए जाने की घोषणा की है। वोटों की गिनती 18 दिसंबर को हिमाचल के साथ ही होगी।
-एजेंसी